युगांडा में जन्मे भारद्वाज, गृह युद्ध का शिकार हुआ था परिवार, गुलबर्ग सोसाइटी दंगा प्रकरण के रह चुके हैं विशेष सरकारी वकील

-Abhay Bhardwaj, Rajya Sabha, Candidate, Gujarat, Uganda, BJP

By: Uday Kumar Patel

Published: 11 Mar 2020, 11:22 PM IST

गांधीनगर/अहमदाबाद. भाजपा ने पूर्व विधायक रमीलाबेन बारा और जाने-माने वकील अभयर भारद्वाज को राज्यसभा चुनाव के लिए अपना प्रत्याशी घोषित किया है।

भारद्वाज गोधरा कांड के बाद भड़के दंगों के गुलबर्ग सोसाइटी प्रकरण में गुजरात सरकार की ओर से विशेष लोक अभियोजक (एसपीपी) थे। इसके अलावा वे सुत्रापाडा अवैध खनन मामले और सेवानिवृत्त आईएएस अधिकारी प्रदीप शर्मा के खिलाफ मामले में भी विशेष लोक अभियोजक की भूमिका निभा चुके हैं। फिलहाल वे पूर्व विधायक जयंती भानुशाली हत्या प्रकरण में एसपीपी के रूप में कार्यरत हैं।

2 अप्रेल 1954 को भारद्वाज का जन्म अफ्रीका के युगांडा में हुआ था। वर्ष 1969 में युगांडा में गृह युद्ध के कारण उनके परिवार को युगांडा छोड़कर राजकोट आना पड़ा था।

राजकोट में रहने वाले भारद्वाज के पिता जनसंघ से जुड़े रहे और वे खुद भी पहले जनसंघ व अब भाजपा से जुड़े हैं।

उन्होंने कहा कि वे प्रदेश भाजपा के साथ-साथ केन्द्रीय भाजपा व मुख्यमंत्री विजय रूपाणी के आभारी हैं। वे जनसंघ के बड़े नेता रहे चिमन भाई शुक्ल के भांजे हैं और राजकोट के भाजपा नेता नितिन भारद्वाज के बड़े भाई हैं।

BJP
Uday Kumar Patel Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned