वडोदरा में आचार्य श्रेयांसप्रभसूरी का चातुर्मास के लिए प्रवेश

‘गुरुजी अमारो अंतर्नाद-अमने आपो आशीर्वाद...’ से गूंजा वडोदरा शहर

By: Rajesh Bhatnagar

Published: 18 Jul 2021, 10:31 PM IST

वडोदरा. ‘गुरुजी अमारो अंतर्नाद-अमने आपो आशीर्वाद...’ और ‘एक-दो-तीन-चार, जिन शासन नो जय-जयकार’ नारों से वडोदरा शहर रविवार को गंूज उठा।
नासिक के ढोल व भटिंडा के बैंड की स्वर लहरियों के बीच सिर पर कुंभ रखकर जैन श्रावक-श्राविकाओं के साथ आचार्य श्रेयासंप्रभसूरी ने शहर के अलकापुरी जैन संघ में चातुर्मास के लिए प्रवेश किया।
अलकापुरी जैन संघ पाठशाला के बालक-बालिकाएं विशिष्ट परिधान पहनकर दिवालीपुरा स्थित न्यायालय के नए भवन से जुलूस में शामिल हुई। अष्टमंगल के वाहन व घोड़ों, गजराज, बग्ग्यिों ने आकर्षण जमाया। अलकापुरी जैन संघ के ट्रस्टी प्रशांतभाई व जयेंद्र शाह के अनुसार जुलूस गाय सर्कल, अकोटा अतिथि गृह पहुंचा।
ट्रस्टी दिलेश मेहता व हिम्मतभाई शाह ने बताया कि एम.एस. यूनिवर्सिटी के सिनेट व सिंडिकेट सदस्य जिगर इनामदार के अनुसार जैनिज्म का पाठ्यक्रम संचालित किया जाएगा, इसमें आचार्य श्रेयांसप्रभसूरी अध्यापन करेंगे।
जैन अग्रणी दीपक शाह के अनुसार आजवा रोड पर नवपद सोसायटी से वल्लभसूरी समुदाय के आचार्य विद्युतरत्नसूरी व उपाध्याय योगेंद्रविजय ने इंद्रपुरी जैन संघ में चातुर्मास के लिए प्रवेश किया।

Rajesh Bhatnagar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned