Ahmedabad BRTS : बीआरटीएस बसों से दुर्घटनाओं को लेकर कांग्रेस ने किया जमकर विरोध

बस चालक को किया निलंबित, संचालक को दिया नोटिस
चार वर्ष में २२ लोगों की मौत होने की कबूलात

अहमदाबाद. शहर के पांजरापोल चार रास्ता के निकट गुरुवार को बीआरटीएस बस की चपेट में आने से हुई दो भाइयों की मौत को लेकर महानगरपालिका में कांग्रेस की ओर से प्रदर्शन किया गया। दूसरी ओर मनपा का कहना है कि दुर्घटना के बाद बस चालक को निलंबित कर दिया गया है और इस मामले में पुलिस थाने में भी शिकायत दर्ज करवाई गई है। साथ ही बस संचालक कंपनी को नोटिस दिया गया है। मनपा प्रशासन ने वर्ष २०१६ से अब तक बीआरटीएस बसों से २२ लोगों की मौत होने की कबूलात की है।
बीआरटीएस बसों से आए दिन हो रही दुर्घटनाओं को लेकर कांग्रेस ने गुरुवार शाम को मनपा कार्यालय के बाहर मनपा प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। उस दौरान पुलिस बंदोबस्त बढ़ाया गया ताकि कार्यालय में प्रदर्शनकारी न जाएं। मनपा ऑफिस के सभी दरवाजे भी बंद करने पड़े थे।
मनपा में विपक्ष कांग्रेस का कहना है कि बीआरटीएस बसों से दुर्घटनाएं तो हो रही रहीं हैं साथ ही बीआरटीएस मार्ग के कारण शहर में जगह-जगह ट्रैफिक जाम भी हो रहे हैं। इस संबध में कांग्रेस ने महापौर बीजल पटेल को कड़ी कार्रवाई करने की भी मांग की है।
दूसरी ओर जशोदानगर हितरक्षक समिति की ओर से भी अहमदाबाद महानगरपालिका आयुक्त को ज्ञापन सौंपा गया। जिसमें मांग की गई है इस तरह की दुर्घटनाओं को रोका जाए। इसके अलावा बस संचालक कंपनियों के खिलाफ कड़े नियम बनाए जाएं ताकि बसों के चालक अनुभवी और प्रशिक्षित हों।

चार वर्ष में २२ की मौत
बीआरटीएस बस दुर्घटनाओं में वर्ष २०१६ से अब तक २२ की मौत हो गई है। वर्ष २०१६ में बीआरटीएस बसों की चपेट में आने से चार की मौत हुई थी। इसके बाद वर्ष २०१७ में पांच, २०१८ में चार और जारी वर्ष में अब तक ९ की मौत हो गई। शहर के बीआरटीएस रूटों पर विविध कंपनियों की २३६ बसें दौड़ती हैं।


मृतकों को दस-दस लाख का मुआवजा मिले
पांजरापोल चार रास्ते के निकट बीआरटीएस बस हादसे के शिकार हुए दो सगे भाइयों को दस-दस लाख रुपए का मुआवजा दिया जाए। साथ ही शहर के घनी आबादी क्षेत्रों व संकडे मार्गों से बीआरटीएस कोरीडोर हटाया जाए ताकि ट्रैफिक की समस्या न हो।
दिनेश शर्मा, नेता विपक्ष, अहमदाबाद मनपा

होगी कड़ी कार्रवाई
बीआरटीएस बस की चपेट में आने से गुरुवार को हुई मौत के मामले में बस चालक को निलंबित कर दिया गया है। इसके अलावा जिस कंपनी की बस थी उसे भी नोटिस देकर तीन दिन में जबाव मांगा है। इस संबंध में एफआईआर भी करवाई गई है।
अमूल भट्ट, चेयरमेन स्टेंडिंग कमेटी मनपा

Omprakash Sharma
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned