Ahmedabad : नवजात के लीवर में पनपे ट्यूमर को सफलता पूर्वक निकाला

अहमदाबाद के सिविल अस्पताल की गई जटिल सर्जरी

By: Omprakash Sharma

Updated: 29 Aug 2020, 05:14 PM IST

अहमदाबाद. नवजात शिशु के छोटे से लीवर में पनपी बड़ी गांठ को सिविल अस्पताल की टीम ने सफलता पूर्वक ऑपरेशन कर निकाल लिया। यह गांठ इस कदर शिशु के महत्वपूर्ण अंगों को जकड़ में ले रही थी कि यदि कुछ दिन बाद की जाती तो गंभीर स्थिति पैदा हो सकती थी। इससे पहले शिशु को उपचार के लिए एक निजी अस्पताल में भर्ती कर उपचार भी करवाया गया था लेकिन बाद में सिविल अस्पताल ही लेजा पड़ा।
शहर के सरसपुर क्षेत्र निवासी एक परिवार में जन्मे बच्चे को स्तनपान करने में दिक्कत हो रही थी। परिवार ने बच्चे को नजदीकी अस्पताल के चिकित्सकों का संपर्क किया जहां पता चला कि बच्चे के लीवर में गांठ है। निजी अस्पताल में उपचार के पीछे काफी खर्च करने के बाद इस परिवार ने सिविल अस्पताल का दरवाजा खटखटाया। अस्पताल के पीडियाट्रिक सर्जरी विभाग के चिकित्सकों ने शिशु की स्वास्थ्य जांच की तो लीवर में 720 घन सेंटीमीटर आकार के ट्यूमर का पता चला। उस दौरान इस शिशु की आयु मात्र तीन दिन थी। बिना विलंब किए पीडियाट्रिक विभागाध्यक्ष डॉ. राकेश जोशी, एनेस्थेसिया विभाग की डॉ. शकुंतला गोस्वामी और उनकी टीम के डॉ. चिराग पटेल ने पिछले दिनों बच्चे का ऑपरेशन किया। लीवर से जुड़े ट्यूमर के दूसरे हिस्सों को बिना नुकसान पहुंचाए यह सर्जरी सफलता पूर्वक की गई। डॉ. जोशी का कहना है कि यह ट्यूमर बच्चे की आयु को देखते हुए काफी बड़ा है।

पेट के कई भागों तक फैल चुका था ट्यूमर
डॉ. राकेश जोशी के अनुसार शिशु के लीवर पर एक बड़ा ट्यूमर था। जिसने सभी महत्वपूर्ण अंगों को प्रभावित करना शुरू कर दिया था। इस तरह की सर्जरी के दौरान शिशु के पित्ताशय को नुकसान होने और लीवर से रक्तस्राव की आशंका थी। यदि रक्तस्राव होता तो उसे रोकना काफी मुश्किल होता है। इन सभी गंभीर स्थितियों के बीच आखिर चिकित्सा टीम को सफलता मिली और बच्चो को ट्यूमर मुक्त कर दिया। उनके अनुसार यह ट्यूमर बाद में और गंभीर अड़चन पैदा कर सकता था।

शुरू किया स्तनपान
ट्यूमर के कारण बच्चा स्तनपान भी नहीं कर सका था। इसके बाद किए गए ऑपरेशन से हालत में सुधार हुआ है। अब अच्छी तरह से यह बच्चा स्तनपान करने लगा है। बच्चे के पिता अफरोज आलम का कहना है कि सिविल अस्पताल विश्वास के साथ सर्जरी करने का फैसला किया, जो लाभकारी रहा। अब बच्चा पूरी तर से ठीक हो चुका है।

Omprakash Sharma Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned