अमरीकी लोगों को लोन दिलाने के बहाने ठगने वाले दो शातिर गिरफ्तार

Ahmedabad, fake call center, Cyber crime, fraud with American people, name of loan -साइबर क्राइम ने चांदखेड़ा व साबरमती से पकड़ा

By: nagendra singh rathore

Published: 21 Aug 2021, 09:39 PM IST

अहमदाबाद. अमरीकी नागरिकों को पे डे लोन दिलाने के बहाने ऑनलाइन ठगने वाले दो शातिर आरोपियों को शहर के साइबर क्राइम सेल ने धर दबोचा है। आरोपियों के पास से उपयोग में लिए जाने वाले लैपटॉप, चार मोबाइल फोन और तीस हजार की नकदी बरामद की है।
पकड़े गए आरोपियों में साबरमती मोटेरा स्टेडियम रोड स्थित आनंदनगर निवासी गौरांग राठौड़़ और चांदखेड़ा वल्लभपार्क शिल्पा सोसायटी निवासी अमनदीप सिंह भाटिया शामिल हैं।
क्राइम ब्रांच की जांच में सामने आया कि गौरांग मैजिक जेक नाम की मोबाइल एप्लीकेशन का उपयोग करता था। इसके जरिए अमरीकी नागरिकों से बातचीत करता। उन्हें पे डे लोन दिलाने की बात कहता। जो उसकी बातों में आ जाते उनसे पहले इंश्योरेंस के रूप में पैसे भरने के लिए कहता था। इसके लिए उनके पास से अलग अलग कंपनी के गिफ्ट कार्ड या वाउचर खरीदवाता और फिर उसका नंबर जान लेता। उस नंबर को भारतीय रुपए में कन्वर्ट करवाकर खुद रुपए प्राप्त कर लेता था। अमरीकी लोगों को लोन नहीं दिलाता।
गिफ्ट कार्ड के नंबर को भारतीय रुपए में कन्वर्ट करवाने के लिए वह सोशल मीडिया के माध्यम से अमनदीप भाटिया को भेजता था। अमनदीप उस गिफ्ट कार्ड नंबर के आधार पर प्रोसेस करता। उसे भारतीय रुपयों में कन्वर्ट करता और खुद का हिस्सा काट लेने के बाद शेष राशि गौरांग को भेज दाता था।
आरोपियों में गौरांग बीकॉम तक बढ़ा है, जबकि अमनदीप ने बीएससी तक पढ़ाई की है। जांच में सामने आया कि दोनों ही आरोपी उदयपुर में इससे पहले कॉल सेंटर में काम कर चुके हैं। अहमदाबाद में बीते छह महीने से कॉल सेंटर चला रहे हैं। अब तक इन लोगों ने कितने लोगों को चपत लगाई है उसकी जांच की जा रही है।

nagendra singh rathore
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned