VIDEO: गणपति विसर्जन आज, 10 हजार सुरक्षाकर्मियों का रहेगा पहरा

Ahmedabad, Ganpati visarjan, security, DCP Control, Covid 19, mask, social distancing मास्क, सोशल डिस्टेंसिंग की पालना जरूरी, 15 व्यक्तियों की मर्यादा, पूर्वी और पश्चिम क्षेत्र में आरएएफ की भी तैनाती

By: nagendra singh rathore

Updated: 18 Sep 2021, 10:10 PM IST

अहमदाबाद. कोरोना महामारी के बीच राज्य में कोरोना संक्रमण काबू में होने के चलते गणपति महोत्सव की छूट दी गई है। ऐसे में दस दिनों तक भगवान गणपति की प्रतिमा अपने घर, सोसायटियों में स्थापित करने वाले लोग अब उन प्रतिमाओं का रविवार को विसर्जन करेंगे। अनंत चतुर्थी के दिन गणपति विसर्जन किया जाना है। उसे लेकर शहर में पुलिस की ओर से सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त किए गए हैं। शहर में गणपति विसर्जन की व्यवस्था में 10 हजार सुरक्षा कर्मचारियों को लगाया गया है। आरएएफ की भी दो प्लाटून को शहर के पूर्वी और पश्चिम इलाके में तैनात किया है।
शहर पुलिस कंट्रोलरूम के उपायुक्त डॉ. हर्षद पटेल ने शनिवार को संवाददाताओं को बताया कि गणपति विसर्जन के दौरान किसी भी व्यक्ति की मौत ना हो यह पुलिस के लिए प्राथमिकता रहेगी। इसके अलावा कोरोना गाइडलाइन की पालना हो यह जरूरी है। सरकार की ओर से केवल 15 व्यक्तियों को ही गणपति विसर्जन समारोह में शामिल होने की मंजूरी दी गई है।
इन नियमों की पालना हो उसके लिए शहर में 13 पुलिस उपायुक्त, 20 से ज्यादा सहायक पुलिस आयुक्त (एसीपी), 70 पुलिस निरीक्षक, 265 से ज्यादा पुलिस उपनिरीक्षक और 5700 पुलिस कांस्टेबल, हेड कांस्टेबल व एएसआई तैनात रहेंगे। एसआरपीएफ की तीन कंपनियों को सुरक्षा व्यवस्था में लगाया गया है। 3700 होमगार्ड की भी तैनाती की गई है।
विसर्जन के दौरान सुरक्षा व्यवस्था में आरएएफ की भी एक कंपनी की दो प्लाटूनों को तैनात किया गया है। इसमें एक प्लाटून शहर के पूर्वी इलाके में जबकि दूसरी प्लाटून पश्चिम इलाके में तैनात रहेगी।
उधर अहमदाबाद दमकल विभाग की ओर से भी साबरमती नदी में पेट्रोलिंग रहेगी। इसके अलावा पुलिस भी साबरमती नदी पर नजर रखेगी ताकि प्रतिमाओं का विसर्जन साबरमतीनदी में लोग ना करें। बल्कि रिवरफ्रंट सहित अन्य इलाकों में बनाए गए विसर्जन कुंड में ही विसर्जन करेें। क्योंकि नदी में प्रतिमाओं के विसर्जन पर पर रोक है। इसके अलावा विसर्जन के दौरान डूबने से लोगों की मौत की घटनाएं भी रोकी जा सकेंगीं।

भीड़ और धक्कामुक्की ना हो उस पर रहेगा ध्यान
विसर्जन के दौरान मनपा की ओर से बनाए गए करीब 52 विसर्जन कुंड में लोग आसानी से भीड़भाड़ के बिना प्रतिमाओं का विसर्जन कर सकें ऐसी व्यवस्था सुनिश्चित की गई है। धक्का मुक्की ना हो और बैरिकैडिंग मजबूत रहे उस पर पुलिस की ओर से ध्यान दिया जाएगा।

740 में से 180 प्रतिमाएं ही होंगी विसर्जन कुंड में विसर्जित
उपायुक्त डॉ. हर्षद पटेल ने बताया कि शहर में इस वर्ष 740 जगहों पर सार्वजनिक पांडालों में भगवान गणपति की प्रतिमाओं को स्थापित किया गया है। इसमें से केवल 180 प्रतिमाओं को अहमदाबाद महानगरपालिका की ओर से साबरमती रिवरफ्रंट व अन्य इलाकों में बनाए गए विसर्जन कुंड में विसर्जित करने की मंजूरी दी गई है। जिससे केवल 180 प्रतिमाएं ही सार्वजनिक गणपति पांडाल एसोसिएशन की ओर से विसर्जन करने के लिए वाहनों के साथ निकलेंगी। अन्य प्रतिमाओं का उनके स्थापनास्थल पर ही विसर्जन किया जाएगा।

nagendra singh rathore
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned