Ahmedabad News लीथियम आयन बैटरी के उत्पादन में ग्लोबल मैन्यूफेक्चरिंग हब बनेगा गुजरात

Ahmedabad, Gujarat, CM Vijay rupani, lithium battery, Mou, AEPPL, production plant, बैटरी उत्पादन के लिए गुजरात सरकार और जापान की एईपीपीएल के बीच गांधीनगर में सीएम की मौजूदगी में हुआ एमओयू, हांसलपुर प्लांट में प्रथम दो चरणों में होगा 4930 करोड़ का निवेश, 1000 युवाओं को मिलेगा रोजगार

अहमदाबाद. मुख्यमंत्री विजय रूपाणी CM Vijay rupani ने कहा कि गुजरात अब Global ग्लोबल मैन्युफैक्चरिंग हब बन रहा है। Lithium battery लीथियम आयन बैटरी के Production Plant उत्पादन प्लांट की शुरुआत से इसे और बल मिला है।
यह बात मुख्यमंत्री रूपाणी ने उनकी उपस्थिति में सोमवार को गांधीनगर में गुजरात सरकार के उद्योग विभाग और Japan जापान की ऑटोमोटिव इलेक्ट्रॉनिक्स पावर प्रायवेट लिमिटेड (एईपीपीएल) कंपनी के बीच Mou करार (एमओयू) पर हुए हस्ताक्षर के दौरान कही।
एमओयू पर एईपीपीएल के प्रबंध निदेशक इसिजो आयोआमा और गुजरात सरकार के उद्योग प्रधान सचिव सह मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव एम.के. दास ने हस्ताक्षर किए।
समझौते के तहत एईपीपीएल की ओर से गुजरात के हांसलपुर बेचराजी में दो चरणों में ४९३० करोड़ का निवेश किया जाएगा। पहले चरण में 1,250 करोड़ रुपए के खर्च से लीथियम आयन बैटरी पैक और मॉड्यूल मैन्यूफेक्चरिंग फैसेलिटी वर्ष 2020 के अंत तक स्थापित की जाएगी। इससे लगभग 1000 स्थानीय युवाओं को प्रत्यक्ष या परोक्ष रूप से रोजगार उपलब्ध होगा। दूसरे चरण के विस्तार के तहत 3,715 करोड़ रुपए का निवेश करेगी और वर्ष 2025 तक प्रतिवर्ष 30 मिलियन (3 करोड़) सेल का उत्पादन गुजरात में करेगी।
एईपीपीएल विश्व प्रसिद्ध मोटर कार निर्माता कंपनी मारुति सुजुकी कॉर्पोरेशन, तोशिबा और डेंसो का संयुक्त क्रम है। इस प्रोजेक्ट का शिलान्यास प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और उनके जापानी समकक्ष शिंजो आबे की उपस्थिति में वर्ष २०१७ में हांसलपुर में हुआ था।

२०३० तक ५३ हजार करोड़ के निवेश की योजना
एईपीपीएल के प्रबंध निदेशक इसिजो आयोआमा ने कहा कि कंपनी अपनी भविष्य की योजनाओं के अंतर्गत आगामी 2030 तक गुजरात में 53 हजार करोड़ रुपए के निवेश से 6 बैटरी प्लांट और 2 इलेक्ट्रोड्स प्लांट शुरू करने को तत्पर है। इनके कार्यरत होने से 8 से 10 हजार स्थानीय युवाओं को रोजगार मिलेगा। इतना ही नहीं, अन्य अनुषांगिक उद्योग व सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योगों (एमएसएमई) को भी नया बल मिलेगा।
इस अवसर पर मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव एम.के. दास, उद्योग आयुक्त राहुल गुप्ता, औद्योगिक विस्तार ब्यूरो (इंडेक्स-बी) की प्रबंध निदेशक नीलम रानी सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे।

nagendra singh rathore
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned