आईआईएम के पीजीपी 2020-22 बैच में हैं सीए, वकील, एंकर और साहित्यकार

ahmedabad, IIMA, PGP-2020-22 batch, education, Education सामाजिक कार्यकर्ता और फैशन के जानकार

By: nagendra singh rathore

Published: 18 Oct 2020, 10:05 PM IST

अहमदाबाद. भारतीय प्रबंध संस्थान (आईआईएम-अहमदाबाद) के पोस्ट ग्रेजुएट प्रोग्राम इन मैनेजमेंट (पीजीपी) के वर्ष 2020-22 के बैच में विभिन्न क्षेत्रों के विद्यार्थियों ने प्रवेश पाया है।
बैच में चार्टर्ड एकाउंटेंट (सीए), वकील, टेलीविजन-मीडिया एंकर, साहित्यकार (पुस्तक प्रकाशन),सामाजिक कार्यकर्ता और फैशन जगत के जानकार शामिल हैं। कोरोना महामारी के बीच दो अगस्त २०२० से बैच के विद्यार्थियों की ऑनलाइन पढ़ाई शुरू हो गई है। इस वर्ष ३९० विद्यार्थियों ने पीजीपी में प्रवेश लिया है, जो संख्या बीते वर्ष में ३८८ थी। इस बैच में इंजीनियरिंग पृष्ठभूमि का का दबदबा ४८ प्रतिशत के साथ बरकार है, जबकि विज्ञान पृष्ठभूमि के विद्यार्थियों की संख्या बीते साल की तुलना में आठ प्रतिशत बढ़कर ४५ प्रतिशत हो गई है। कला पृष्ठभूमि (आट्र्स) के भी पांच फीसदी विद्यार्थी आईआईएमए पीजीपी में प्रवेेश पाने में सफल रहे हैं।
००००००
कला स्नातक तथा राष्ट्रीय कानून अध्ययन एवं अनुसंधान विश्वविद्यालय, रांची (एनयूएसआरएल) से अंतररा्ट्रीय कानून ऑनर्स के साथ एल.एल.बी. पदवीधारक आद्या का लक्ष्य इस क्षेत्र में कामयाब होने के लिए एक सलाहकार के रूप में काम करना है। वह एक उद्यमी बनने की उम्मीद भी करती हंै। वह फेमिना मिस इंडिया 2016 की टॉप -21 फाइनलिस्ट थीं। फेमिना मिस इंडिया कोलकाता 2016 की रनर अप भी रही हैं। कई ब्रांडों के लिए एक मॉडल के रूप में काम किया। कई शो भी होस्ट किए हैं। मुख्य कथक में डिप्लोमा भी किया है। 12 वर्षों से मंच पर नृत्य-प्रदर्शन करती रही हैं।
-आद्या नीरज - वकील, मिस इंडिया फाइनलिस्ट
०००००
सेंट जेवियर्स कॉलेज से कला स्नातक (अंग्रेजी साहित्य) की उपाधि प्राप्त की। इप्शिता किसी दिन अपना खुद का उद्यम शुरू करने की उम्मीद करती हैं। वह चाहे जिस क्षेत्र में माहिर हो, उसमें कुछ नया और अनोखा बनाना चाहती हैं। एक उत्सुक लेखक के रूप में इप्शिता राष्ट्रीय आईजीनियस युवा लेखक खोज 2013 की विजेता रह चुकी हैं।
-इप्शिता रिया पीटर्स - साहित्य स्नातक, पुरस्कार विजेता लेखक
०००००
बनारस हिंदू विश्वविद्यालय से राजनीति विज्ञान में स्नातक हुई पलक बाल शिक्षा और स्वास्थ्य की दिशा में काम करने वाले एक गैर सरकारी संगठन की एक प्रमुख सदस्या थी। दो गांवों में स्मार्ट क्लास की अवधारणा शुरू करने में मदद की, एक पुस्तकालय स्थापित करने की दिशा में भी काम किया। एक दीर्घकालिक लक्ष्य में, वह कुछ ऐसा करने का लक्ष्य रखती है जो समाज में मूल्य जोड़ता हो क्योंकि पलक के लिए सामाजिक विज्ञान से प्रबंधन में आने के लिए यही मकसद था।
पलक मिश्रा - सामाजिक कार्यकर्ता, राजनीति विज्ञान स्नातक
०००००
एमिटी यूनिवर्सिटी नोएडा से कला स्नातक (पर्यटन प्रशासन) होने के बाद पर्यटन और मीडिया उद्योग में दो साल का कार्यानुभव है। वह एक प्रशिक्षित कथक नर्तकी है। वह दूरदर्शन स्पोर्ट्स में चली गईं जहां सोशल मीडिया टीम में काम किया और 80 लाख से अधिक की टीआरपी के साथ विभिन्न दूरदर्शन चैनलों पर विभिन्न शो के लिए एक टेलीविजन एंकर के रूप में भी कार्यरत हैं।
-शेफाली छाया - टेलीविजन एंकर, पर्यटन स्नातक
०००००
चार्टर्ड एकाउंटेंट-सनदी लेखापाल उपाधिधारक अनुश्री ने सीएस कार्यपालक भी उत्तीर्ण किया है। अनुश्री कभी भी खुद को केवल प्राथमिक लेखांकन और लेखा परीक्षा जिम्मेदारियों तक सीमित नहीं रखना चाहती थी। वह एक प्रमाणित हस्तलेखन-विज्ञानी है और हस्तलेखन विज्ञान अनुसंधान संस्थान में एक परीक्षक है। वह आत्म-वृद्धि और करियर मार्गदर्शन पर एक जीवन शैली ब्लॉगर हैं। वह फर्डिनेंड पोर्श जिमनैजियम जफ़ेनहॉज़, स्टटगार्ट द्वारा आयोजित जर्मन एक्सचेंज प्रोग्राम की प्रतिनिधि भी रही हैं।
-अनुश्री नायक-सी.ए.

०००००
ऊर्जा क्षेत्र में 3 साल के कार्यानुभव के साथ एनआईटीके-सूरतखाल से केमिकल इंजीनियर की उपाधि प्राप्त तनिष्क का लक्ष्य समान फोकस वाले संगठनों के साथ काम करना है। तनिष्क एक राष्ट्रीय स्तर के तैराक भी है, उन्होंने राष्ट्रीय स्तर पर अंडर-16 और अंडर-19 श्रेणियों में दो पदक जीते और महाराष्ट्र स्टेट वाटरपोलो चैम्पियनशिप में डिवीजन टीम का नेतृत्व किया। उनका अंतिम लक्ष्य पेरिस समझौते के लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए शुद्ध-शून्य कार्बन उत्सर्जन विश्व बनाने के लिए ऊर्जा क्षेत्र को बदलना है।
-तनिष्क डिद्दी - राष्ट्रीय स्तर के तैराक
००००
आयुष 16 साल की उम्र से काम कर रहे हैं। उन्हें एहसास हुआ कि उनका सच्चा प्यार मार्केटिंग में है। अब, वह ब्रांडिंग उद्योग में खुद के लिए लंबे समय तक जगह बनाने के उद्देश्य से ब्रांडिंग वर्टिकल में एक बदलाव करना चाहते हैं। आयुष को स्कूबा गोताखोर के रूप में लाइसेंस प्राप्त है।
-आयुष रेडिज - जनसमुदाय माध्यम (विज्ञापन) स्नातक

०००
निफ्ट दिल्ली से फैशन टेक्नोलॉजी में स्नातक तान्या ने ओमान और जॉर्डन में सहायक आईई प्रबंधक के रूप में मस्ट गारमेंट्स कार्पोरेशन लिमिटेड-सिडनी अपैरेल्स के साथ काम किया है, जिसमें वे औद्योगिक इंजीनियरिंग विभाग में वह एकमात्र लड़की थीं।उन्होंने पढ़ाई के अंतिम वर्ष के दौरान, एक स्वचालित शेड मार्किंग मशीन (पेटेंट की प्रक्रिया जारी है) डिजाइन की और उसे लागू किया, जो इस प्रकार की पहली मशीन है। उद्योग में मौजूदा लागत के 50त्न बचाती है। इस परियोजना को 'व्यावसायिक रूप से सर्वाधिक व्यवहार्य परियोजना' के पुरस्कार से भी सम्मानित किया गया था।
-तान्या गुप्ता - फैशन टेक्नोलॉजी स्नातक
०००००
मीडिया अध्ययन (दृश्य-श्रव्य निर्माण) के साथ सिम्बायोसिस माध्यम एवं संचार संस्थान से स्नातक संदीप ने पिछले 4 वर्षों में विभिन्न प्रोडक्शन हाउस में एक निर्माता के रूप में काम किया है। वह हमेशा एक व्यवसाय चलाना चाहते हैं। वह एक राज्य-स्तरीय बेसबॉल खिलाड़ी है और उसने कई जिला-स्तरीय वाद-विवाद प्रतियोगिताओं में जीत हासिल की है।
-संदीप राजगुरु-मीडिया अध्ययन स्नातक, राज्य स्तरीय बेसबॉल खिलाड़ी

००००
श्री राम वाणिज्य कॉलेज से कला स्नातक (अर्थसास्त्र ऑनर्स) की उपाधि प्राप्त। स्नातक के दौरान अनुष्का नाटकों में सक्रिय रूप से शामिल थी और विभिन्न मुद्दों पर समाज को प्रभावित करने के लिए विभिन्न नुक्कड़ नाटक करती थी। आईआईएम अहमदाबाद में आने से पहले, उसने त्रेसविस्ता में 27 महीनों तक वित्तीय विश्लेषक के रूप में काम किया। अगले 2-3 वर्षों में, वह विभिन्न उद्योगों और कार्यों में उपलब्ध विभिन्न विकल्पों को खोजना चाहती है।
-अनुष्का टम्टा - अर्थशास्त्र स्नातक

nagendra singh rathore
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned