पैसों के लेनदेन में चांदखेड़ा से बिल्डर का अपहरण, सुरेन्द्रनगर से सकुशल छुड़ाया

Ahmedabad, kidnapping, builder, surendranagar, crime branch, 5 accused arrested -क्राइम ब्रांच ने पांच आरोपियों को पकड़ा

By: nagendra singh rathore

Published: 27 Jun 2021, 09:31 PM IST

अहमदाबाद. पैसों के लेनदेन के चलते शहर के चांदखेडा इलाके से एक बिल्डर प्रकाश प्रजापति का अपहरण किए जाने के मामला सामने आया है। शिकायत मिलते ही हरकत में आई क्राइम ब्रांच ने चंद घंटों में ही सुरेन्द्रनगर जिले की लींमडी तहसील के रणोल गांव से बिल्डर को सकुशल मुक्त करा लिया। पांच आरोपियों को पकड़ा है।
पकड़े गए आरोपियों में अहमदाबाद जिले की बावला तहसील के भायला गांव निवासी नरेन्द्र सिंह राठौड़ (६0), सुरेन्द्रनगर जिले की लींमडी तहसील के परनाल गांव निवासी वाघाभाई भरवाड़ (४२), रघुभाई भरवाड़ (43) और रणोल गांव निवासी अब्दुल टिंबलिया (५३), यूनुस वारैया (37)शामिल हैं।
क्राइम ब्रांच के अनुसार चांदखेड़ा न्यू सीजी रोड मलबेरी हैबिटेड निवासी बिल्डर प्रकाश ने बावला तहसील के भायला गांव निवासी नरेन्द्र सिंह राठौड़ के पास से पांच करोड़ रुपए लिए थे, जो देने अभी बाकी हैं। इन्हीं पैसों के सिलसिले में नरेन्द्र सिंह ने वाघाभाई भरवाड़ को प्रकाश का अपहरण कर रुपए लेने के लिए कहा था। जिस पर वाघा भरवाड़ ने रघु के साथ मिलकर शनिवार सुबह करीब छह बजे प्रकाश को उसके घर से बाहर स्वामीनारायण मंदिर के पास से अपहृत कर लिया। इसकी सूचना वाघाभाई ने फोन करके प्रकाश के ड्राइवर शिवकांत तिवारी को दी। उससे कहा कि प्रकाशभाई का अपहरण किया है। उसे सुरक्षित ले जाना है तो एक करोड़ रुपए लेकर सनाथल पर मेरे बताए व्यक्तियों को दे दो। शिवकांत ने इसकी जानकारी प्रकाश की पत्नी हर्षाबेन को दी जिस पर हर्षाबेन ने चांदखेडा थाने में इसकी शिकायत दर्ज कराई।
क्राइम ब्रांच की टीमों ने मौके पर पहुंचकर सीसीटीवी फुटेज खंगाले और जिस नंबर से फोन पर एक करोड़ मांगे गए थे। उसकी जांच शुरू की जिसके आधार पर सुरेन्द्रनगर टीमें रवाना कर प्रकाशभाई को सुरेन्द्रनगर के रणोल गांव से सकुशल छुड़़ा लिया। रणोल गांव में अब्दुल टिंबलिया और यूनुस ने प्रकाश को बंधक बनाकर रखा था।

२० दिन पहले घर आकर दी थी धमकी
चांदखेडा थाने में दर्ज प्राथमिकी के अनुसार २० दिन पहले नरेन्द्र सिंह उसके पुत्र के साथ चांदखेडा में प्रकाश के घर आया था। उसने हर्षाबेन को धमकी दी थी कि प्रकाश से कह देना कि पैसे दे दे। ऐसा नहीं करने पर पुत्रों को जान से मारने की भी धमकी दी थी।

nagendra singh rathore
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned