केवाईसी अपडेट करने के बहाने देश भर में ठगी करने वाले गिरोह का पर्दाफाश

Ahmedabad, KYC update fraud, Online fraud, Crim, Cyber crime, Gujarat, दो आरोपी गिरफ्तार, ५८ लाख का मुद्दामाल जब्त, ८ राज्यों में फैला था जाल

By: nagendra singh rathore

Published: 13 Aug 2020, 08:46 PM IST

अहमदाबाद. कोरोना संकट काल में लोग ऑनलाइन ट्रांजेक्शन को ज्यादा तवज्जो दे रहे हैं ऐसे समय में ऑनलाइन ट्रांजेक्शन करने में उपयोग में लिए जाने वाले एक एप का नो योर कस्टमर (केवाईसी) वैरिफिकेशन अपडेट करने के बहाने से देशभर के लोगों को ऑनलाइन ठगने वाले गिरोह का अहमदाबाद साइबर क्राइम ने पर्दाफाश किया है। दो आरोपियों को गिरफ्तार कर उनके पास से कार, बाइक सहित ५८ लाख रुपए का मुद्दामाल जब्त किया है। आरोपियों की ओर से गुजरात ही नहीं बल्कि देश के आठ राज्यों के लोगों को ठगने एवं उसकी कोशिश करने से जुड़े लोगों के नंबर व ब्यौरा मिला है।

गिरफ्तार आरोपियों में मुख्य आरोपी सोहिलखान पठान है जो अहमदाबाद के रखियाल का रहने वाला है। दूसरा आरोपी मोहसिन है। आरोपी रखियाल में ऑफिस लेकर बाकायदा इसका काम करता था। सोहिल ने आयुर्वेदिक दवाओं को बेचने के नाम से अलग अलग राज्यों के लोगों के मोबाइल नबर का डाटा खरीदा था। इसके पास से गुजरात, हरियाणा, महाराष्ट्र, मध्यप्रदेश, राजस्थान, झारखंड, पंजाब, दिल्ली के लोगों का मोबाइल नंबर एवं डाटा मिला है।
आरोपी ने एक बुजुर्ग को इसी बहाने से ९८ लाख रुपए की ऑनलाइन चपत लगाई है। जिसका मामला साइबर क्राइम में दर्ज है जिसकी जांच के दौरान सबूत मिलने पर इस गिरोह का पर्दाफाश हुआ। आरोपियों ने अब तक कितने लोगों को चपत लगाई है उसकी पूछताछ जारी है।

५ हजार मेंं मोबाइल दिलाने के नाम पर भी ठगी

गिरफ्तार मुख्य आरोपी सोहिल की पूछताछ में सामने आया कि वह ऑनलाइन ठगी के साथ पांच हजार रुपए में एक कंपनी का मोबाइल फोन दिलाने के बहाने से भी लोगों को ठगता है। दस लोगों को ठगने का आरोप कबूला है।

nagendra singh rathore
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned