Ahmedabad News : सफाई कर्मचारियों की अनिश्चितकालीन हड़ताल

स्थाई नौकरी की मांग के साथ प्रदर्शन, कर्मचारी भर्ती प्रक्रिया शुरू होने का इंतजार कर रहे थे, लेकिन इस दिशा में कार्रवाई नहीं शुरू होने पर कर्मचारी फिर से हड़ताल पर उतर गए।

By: Binod Pandey

Published: 18 Jan 2021, 01:05 AM IST

आणंद. नगर पालिका के अस्थाई कर्मचारियों ने नौकरी स्थाई करने की मांग को लेकर शनिवार से अनिश्चतकालीन हड़ताल शुरू कर दी जो दूसरे दिन रविवार को भी जारी रही। इस दौरान कर्मचारियों ने धरना-प्रदर्शन के जरिए विरोध जताया।

गत एक जनवरी, 2021 को हड़ताल पर उतरे सफाई कर्मचारियों के संगठन गुजरात राज्य सरकारी चतुर्थ वर्गीय कर्मचारी संकलन समिति के आणंद यूनिट के साथ नगर पालिका के मुख्य अधिकारी ने मीटिंग कर समाधान कर दिया था। इसके तहत 31 मार्च, 2021 से पहले भर्ती प्रक्रिया पूर्ण करने का आश्वासन दिया था। अधिकारी के इस भरोसे पर कर्मचारियों ने हड़ताल समाप्त कर दिया था। इसके बाद कर्मचारी भर्ती प्रक्रिया शुरू होने का इंतजार कर रहे थे, लेकिन इस दिशा में कार्रवाई नहीं शुरू होने पर कर्मचारी फिर से हड़ताल पर उतर गए।
आणंद नगर पालिका में पिछले 20 वर्ष से दैनिक कर्मचारी के रूप में कार्यरत अस्थाई कर्मचारियों की सरकार ने दो वर्ष पूर्व भर्ती करने संबंधी आदेश जारी किया था। इसके बावजूद इस दिशा में नपा की ओर से प्रयत्न नहीं किए गए।

गुजरात राज्य चतुर्थ वर्गीय कर्मचारी संकलन समिति की ओर से आणंद नगर पालिका के प्रमुख को पत्र लिखकर 10 मांगें की गई है। इसमें 31 अक्टूबर, 2017 के बाद सफाई कर्मचारियों के खाली पद को 31 मार्च, 2021 से पहले नियमानुसार भरने की मांग की गई है। इसके अलावा 23 अक्टूबर, 2017 के सफाई कर्मचारियों की भर्ती के संबंध में जारी परिपत्र के अनुसार रोस्टर आरक्षण के संबंध में किए गए प्रावधान और महिला आरक्षण को ध्यान में रखते हुए भर्ती करने की मांग की है।

अमरेली नगर पालिका के एक मामले के अनुसार हाईकोर्ट की फुल बेंच की ओर से दिए गए आदेश के अनुसार गाइड लाइन के आधार पर भर्ती करने, परिपत्र के अनुसार 48 फीसदी आरक्षण सीमा को ध्यान में नहीं लेने, भर्ती में 20 फीसदी कटौती नहीं करने, स्थापना में से 50 फीसदी की भर्ती करने, लंबे समय से कार्यरत कर्मचारियों की उम्र सीमा बाधक नहीं होने देने आदि मांग शामिल है। सफाई कर्मचारी अग्रणी महेश वाघेला ने बताया कि नगर पालिका के 58 सफाई कर्मचारी दैनिक कर्मचारी के रूप में कार्यरत हैं। सरकार के भर्ती करने संंबंधी आदेश का पालन नहीं किया गया है। प्रशासन जब तक भर्ती प्रक्रिया शुरू नहीं करती है, कर्मचारियों स्थाई नहीं करती है, आंदोलन जारी रहेगा।

Show More
Binod Pandey
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned