Ahmadabad News : राजकोट में कांग्रेस के 22 कार्यकर्ता हिरासत में लिए, धरने पर उतरे

शनिवार रात भारी राजनीतिक गहमागहमी का माहौल रहा। पुलिस ने चुनाव पूर्व कार्रवाई करते हुए अलग-अलग वार्ड से कांग्रेस के 22 कार्यकर्ताओं को हिरासत में ले लिया। जानकारी मिलते ही कांग्रेस कार्यकर्ता आक्रोशित होकर पुलिस आयुक्त के बंगले के समक्ष पहुंच गए और यहां नारेबाजी करते हुए धरने पर बैठ गए।

By: Binod Pandey

Published: 21 Feb 2021, 10:57 AM IST

राजकोट. शनिवार देर रात राजकोट के अलग-अलग वार्ड से कांग्रेस के 22 कार्यकर्ताओं को पुलिस ने हिरासत में ले लिया। कांग्रेस ने इसके विरोध में पुलिस आयुक्त बंगले के सामने धरना शुरू कर दिया। इन्हें भी हिरासत में ले लिया गया। नेताओं ने पुलिस पर भाजपा के इशारे पर काम करने का आरोप लगाया।
रविवार सुबह राजकोट महानगर पालिका के सभी 18 वार्ड में मतदान कार्य शुरू हो गया। इससे पहले शनिवार रात भारी राजनीतिक गहमागहमी का माहौल रहा। पुलिस ने चुनाव पूर्व कार्रवाई करते हुए अलग-अलग वार्ड से कांग्रेस के 22 कार्यकर्ताओं को हिरासत में ले लिया। जानकारी मिलते ही कांग्रेस कार्यकर्ता आक्रोशित होकर पुलिस आयुक्त के बंगले के समक्ष पहुंच गए और यहां नारेबाजी करते हुए धरने पर बैठ गए। पुलिस ने बाद में इन्हें भी हिरासत में ले लिया। जानकारी के अनुसार वार्ड नंबर 1 के कांग्रेस प्रमुख रमेशभाई जंूजा और अन्य कई कार्यकर्ताओं को कांग्रेस कार्यालय के बाहर से हिरासत में लिया गया। इन सभी को गांधीग्राम पुलिस थाने ले जाया गया। रमेशभाई ने बताया कि शनिवार रात 11.30 बजे पुलिस की टीम पहुंची थी। इसके बाद बगैर किसी कारण के वार्ड के कार्यकर्ताओं को पुलिस ने हिरासत में ले लिया। सभी को गांधीग्राम पुलिस थाने ले जाया गया। बात फैलते ही शहर कांग्रेस के कार्यकारी प्रमुख प्रदीप सिंह त्रिवेदी, अशोक डांगर, महेशभाई राजपूत, विपक्षी नेता वशरामभाई सागठिया, अशोक वाघेला आदि पुलिस आयुक्त के बंगले पर पहुंच गए। यहां सभी ने नारेबाजी करते हुए धरने पर बैठ गए। क्राइम ब्रांच ने इन सभी कार्यकर्ताओं को हिरासत में ले लिया और प्रद्युम्न नगर थाने ले गए। बताया गया कि रात्रि दो बजे सभी कार्यकर्ताओं को छोड़ दिया गया। कांग्रेस नेता अशोक डांगर और वशरामभाई सागठिया ने बताया कि पुलिस ने आश्वासन दिया कि रविवार को किसी को हिरासत में नहीं लिया जाएगा। बताया गया कि पुलिस ने धारा 151 के तहत कार्यकर्ताओं को हिरासत में लिया था।

Congress
Binod Pandey
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned