Ahmedabad News : 6 हजार हेक्टेयर में प्याज की खेती, सालाना दो सौ करोड़ का कारोबार

  • भावनगर के तलाजा यार्ड में प्याज की नीलामी शुरू करने की हलचल तेज
  • किसानों ने की मांग, यार्ड प्रशासन भी तैयारियों में जुटा

By: Binod Pandey

Published: 24 Jul 2021, 10:51 AM IST

राजकोट. भावनगर जिले की तलाजा तहसील के मार्केट यार्ड में प्याज की नीलामी फिर से शुरू करने की मंाग तेज हो गई है। यार्ड प्रशासन भी इस दिशा में प्रयत्नशील हो गया है। यार्ड में प्याज की नीलामी नहीं होने से किसानों को भावनगर और महुवा जाने को विवश होते हैं। जानकारों का मानना है कि तलाजा में प्याज की नीलामी नहीं होने से यहां की अर्थ व्यवस्था को करीब सौ करोड़ रुपए का नुकसान होता है।


भावनगर जिले की तलाजा तहसील की अधिकांश आबादी खेती पर निर्भर हैं। विशाल समुद्र का किनारा मिलने के बाद भी दूरदर्शिता के अभाव में विकास कोसो दूर दिखाई देता है। इसकेे बावजूद यहां के अधिकांश लोग खेती-बाड़ी कर जीविकोपार्जन करते हैं। तलाजा क्षेत्र में मुख्य फसल प्याज, मूंगफली, कपास है। इनमें प्याज बोने वाले लोगों की संख्या अधिक है। अनुमान के अनुसार करीब छह हजार हेक्टेयर में प्याज की खेती की जाती है। औसत 1400 मन प्याज की उपज होती है। यदि दो सौ रुपए मन का भाव मिले तो करीब दो सौ करोड़ रुपए का प्याज यहां उपजता है। भावनगर जिले में सर्वाधिक प्याज तलाजा में होने के बावजूद यहां के यार्ड में वर्षों से प्याज की नीलामी नहीं होती है। विशेषज्ञों की माने तो प्याज की नीलामी नहीं होने के कारण यहां स्थानीय बाजार की अर्थव्यवस्था में सौ करोड़ रुपए का नुकसान होता है। यदि यहां प्याज की नीलामी शुरू हो जाए तो स्थानीय श्रमिकों को मजदूरी, ट्रांसपोर्टर को फायदा और किसानों को भी आर्थिक लाभ पहुंचेगा। तलाजा यार्ड में प्याज की नीलामी नहीं होने के कारण बड़े पैमाने पर किसान भावनगर और महुवा जाने को विवश होते हैं। सरकार की ढुलमुल निर्यात नीति के कारण प्याज का भाव कभी आसमान तो कभी जमीन पर आ जाता है।

प्याज की आवक आने से पहले अग्रिम आयोजन किया जाता है। सर्वप्रथम व्यापारी यहां पहुंचे, इसकी व्यवस्था की जा रही है। अच्छे व्यापारियों के लिए यहां के किसान, बाजार सभी स्वागत को तैयार हैं।
अजितभाई परमार, तलाजा यार्ड के सचिव

यहां के यार्ड में पहले निश्चित व्यापारी थे। उचित भाव और समय पर रुपए नहीं मिलने की शिकायतों के कारण यहां नीलामी बंद कर दिया गया। इस बार अग्रिम आयोजन किया जा रहा है। भावनगर यार्ड के व्यापारियों से वे मिलकर आ चुके हैं। महुवा यार्ड के व्यापारियों से भी वे मिलेंगे कि वे यहां आकर प्याज की खरीदी करें। तलाजा में प्याज की नीलामी शुरू करने का हर संभव प्रयास किया जाएगा।
भीमजीभाई पंडया, तलाजा यार्ड के प्रमुख

Show More
Binod Pandey
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned