Gujarat Hindi News : पटाखे की दुकान में आगजनी मामला : तीन आरोपियों को मिली जमानत

दुकान संचालकों ने अनुमति से अधिक मात्रा में पटाखा जमा किया था। शहर के बीचोबीच गोदाम रखने का नियम नहीं होने के बावजूद अवैध रूप से पटाखों का जत्था रखा गया था।

By: Binod Pandey

Published: 22 Sep 2021, 11:13 AM IST

आणंद. शहर स्थित इंडियन रेडक्रॉस सोसायटी के सामने कॉम्प्लेक्स में गत नौ अगस्त को पटाखे की दुकान में आग के मामले में पुलिस ने तीन लोगों को गिरफ्तार किया। हालांकि जमानत योग्य धाराओं के कारण तीनों को शाम तक जमानत पर रिहा कर दिया गया। मामले में पटाखे की दुकान की आग इतनी भयावह थी कि समीप की बिल्डिंग को भी चपेट में लिया था। घटना में जनहानि नहीं हुई थी।


जानकारी के अनुसार आणंद शहर में रहने वाले सुनीलभाई खटवाणी अपने पिता कनैयालाल खटवाणी और पुत्र मोहित खटवाणी के साथ आणंद के स्टेशन रोड स्थित नगरपालिका के सामने कॉप्लेक्स में पटाखे की दुकान चलाते हैं। नौ अगस्त को यहां आग लगी। पटाखे की वजह से आग ने विकराल रूप धारण कर लिया। इससे समीप के कॉम्प्लेक्स को भी नुकसान पहुंचा।


पुलिस ने प्राथमिकी दर्ज कर मामले की जंाच शुरू की जिसमें एफएसएल की रिपोर्ट मांगी गई। इससे पता चला कि दुकान संचालकों ने अनुमति से अधिक मात्रा में पटाखा जमा किया था। शहर के बीचोबीच गोदाम रखने का नियम नहीं होने के बावजूद अवैध रूप से पटाखों का जत्था रखा गया था। आग से 87 लाख रुपए का नुकसान होने की जानकारी शिकायत में दर्ज कराई गई थी।


जांच के बाद हितेश मोहन की शिकायत के आधार पर पुलिस ने सुनील खटवाणी, मोहित खटवाणी और कनैया खटवाणी के विरुद्ध एक्सप्लोसीव एक्ट के तहत प्राथमिकी दर्ज कर कार्रवाई शुरू की। पीएसआई इमरान धसुरा ने बताया कि तीनों आरोपियों के विरुद्ध मामला दर्ज करने के बाद सुबह उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। शिकायत में दाखिल धारा जमानत योग्य होने पर बाद में उन्हें जमानत पर रिहा कर दिया गया।

Binod Pandey
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned