Ahmedabad : 18 निजी अस्पतालों में कोरोना उपचार के लिए 50 फीसदी बेड आरक्षित

-1219 बेड बढ़ाए

By: Omprakash Sharma

Published: 08 Apr 2021, 09:57 PM IST

अहमदाबाद. शहर में कोरोना की विकराल हो रही स्थिति को ध्यान में रखकर महानगरपालिका ने शहर के और 18 निजी अस्पतालों में 50 फीसदी बेड कोरोना के मरीजों के लिए आरक्षित किए हैं। जिसके चलते निजी अस्पतालों में और 1219 बेड बढ़ा दिए गए हैं।
महानगरपालिका के अनुसार शहर के 18 अस्पतालों में 50 फीसदी बेड कोरोना के उपचार के लिए आरक्षित किए गए हैं। शेष 50 फीसदी बेड अन्य मरीजों के लिए इस्तेमाल हो सकेंगे। एएमसी केअनुसार फिलहाल इन बेड पर उपचार लेने के लिए खर्च स्वंय को वहन करना होगा। जिन अठारह अस्पतालों में बेड की संख्या बढ़ाई गई है उनमें से थलतेज स्थित जायडस हॉस्पिटल में 275 बेड हैं। इसके अलावा वैष्णोदेवी सर्कल के निकट केडी अस्पताल में 150, मेमनगर स्थित स्ट्रर्लिंग हॉस्पिटल में 156, रखियाल स्थित हृदयालय में 150, नवरंगपुरा स्थित सेवियर हॉस्पिटल में 55, सेटेलाइट में पारेख हॉस्पिटल में 25, बोडकदेव में बेरियाट्रिक हॉस्पिटल में 50, कुबेरनगर स्थित सिन्धु हॉस्पिटल में 50, मणिनगर स्थित सिद्धि विनायक हॉस्पिटल में 50, साबरमती क्षेत्र स्थित पुखराज जनरल हॉस्पिटल में 37, नारणपुरा स्थित एवरोन हॉस्पिटल में 32, एलिसब्रिज क्षेत्र में कर्नावटी हॉस्पिटल में 29, नए वाडज स्थित देवस्य हॉस्पिटल में 25, प्रेम दरवाजा क्षेत्र स्थित लोखंडवाला जनरल हॉस्पिटल में 25, बापूनगर स्थित अपोलो प्राइम हॉस्पिटल में 35, बापूनगर स्थित करमदीप हॉस्पिटल में 25, सेटेलाइट स्थित सेटेलाइट हॉस्पिटल में 25 तथा नरोडा रोड स्थित चौधरी हॉस्पिटल में 25 बेड कोरोना के उपचार के लिए आरक्षित किए गए हैं। कुल मिलाकर इन अस्पतालों में क्षमता के 50 फीसदी बेड कोरोना मरीजों के लिए उपलब्ध करवाए गए हैं।

Omprakash Sharma Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned