Ahmedabad news : 1100 एकड़ जमीन में घुसा पानी, तम्बाकू व धान की फसल को नुकसान

Ahmedabad news : 1100 एकड़ जमीन में घुसा पानी, तम्बाकू व धान की फसल को नुकसान
Ahmedabad news : ११०० एकड़ जमीन में घुसा पानी, तम्बाकू व धान की फसल को नुकसान

Gyan Prakash Sharma | Updated: 15 Sep 2019, 10:40:38 PM (IST) Ahmedabad, Ahmedabad, Gujarat, India

मही नदी में बाढ़, Ahmedabad news, Anand news, Gujrat news, Flood, Crops

आणंद. कडाणा डैम से सात लाख क्युसेक पानी छोडऩे के कारण मही नदी में बाढ़ के हालात पैदा हो गए हैं, जिसके चलते आणंद जिले की आंकलाव तहसील में नदी के तटीय क्षेत्रों में पानी घुसने गया। लगातार तीसरे दिन भी खेतों में से पानी नहीं उतरने के कारण ११०० एकड़ में की गई तम्बाकू एवं धान की बुवाई को नुकसान होने की आशंका है।


जानकारी के अनुसार कडाणा डेम एवं पानम डेम से पानी छोडऩे के कारण महीसागर नदी में सात लाख क्युसेक पानी की आवक हुई है, जिसके कारण शुक्रवार से नदी में बाढ़ आई है। ऐसे में गंभीरा व कोठियावाड गांव की सीमा में नदी का पानी खेतों में घुसने से ११०० एकड़ जमीन में तम्बाकू व धान की फसल में रविवार को तीसरे दिन भी पानी भरा है। ऐसे में किसानों को फसल नष्ट होने की आशंका है।


नदी के तटीय क्षेत्र गंभीरा, बामणगाम, ननी, कंख्याड, कोठियाखाड सहित गांवों की जमीन में पानी घुसने से किसान चिन्तित हैं। इसके अलावा, खेरडा, व्हेराखाड़ी, राजूपुरा सहित नदी के किनारे स्थित गांवों में भी पानी घुसने से धान, बाजरा आदि फसलों को नुकसान हुआ है।


नुुकसान का सर्वे शुरू


तीन दिनों से खेतों में भरा पानी नहीं उतरने के कारण तम्बाकू व धान की फसल को ज्यादा नुकसान होने की आशंका है। ऐसे में जिला पंचायत खेतीवाड़ी शाखा की ओर से रविवार को फसल के नुकसान का सर्वे शुरू किया गया है। बामणगाम, कोठियाखाड आदि गांवों में ग्राम सेवक व पटवारी की ओर से नुकसान का सर्वे शुरू किया गया है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned