आणंद के तीन युवक मलेशिया में बंधक

आणंद के तीन युवक मलेशिया में बंधक
Anand's three youth hostage

Gyan Prakash Sharma | Publish: Aug, 08 2019 10:08:06 PM (IST) Ahmedabad, Ahmedabad, Gujarat, India

होटल मालिक छह महीने से नहीं दे रहा वेतन, वीडियो वायरल, तीनों को भारतीय दूतावास को सौंपा

आणंद. जिले के तीन युवकों को मलेशिया में बंधक बनाने का मामला सामने आया है। एक वर्ष पूर्व मलेशिया गए तीनों युवक एक होटल में नौकरी करते थे, लेकिन पिछले छह महीने से तीनों को वेतन नहीं मिला है। इतना ही नहीं, अपितु पर्याप्त भोजन भी नहीं मिल रहा है। बंधक तीनों युवकों ने किसी तरह वीडियो बनाकर परिजनों को भेजा तो वह भी चिन्तित हैं। मामले की गंभीरता को देखते हुए आणंद के सांसद मितेश पटेल ने इस संबंध में गुरुवार को विदेश मंत्रालय को जानकारी दी, जिसके चलते विदेश मंत्रालय की ओर से मलेशिया सरकार को जानकारी करके तीनों युवकों को सुरक्षित भारत लाने के प्रयास शुरू किए हैं, जिसके चलते मलेशिया सरकार ने तीनों को सुरक्षित मलेशिया स्थित भारतीय दूतावास को सौंपा है।
जानकारी के अनुसार जिले के पीपली गांव निवासी तीन युवक एक वर्ष पूर्व रुपए कमाने के लिए वडोदरा के एजेंट मार्फत मलेशिया गए थे, जहां एजेंट ने तीनों को एक होटल में नौकरी दिलाई थी।
छह महीने तक तो होटल मालिक की ओर से नियमित वेतन दिया गया और खाने की अच्छी व्यवस्था की थी, लेकिन बाद में छह महीने से ना तो वेतन मिल रहा है और ना ही पर्याप्त भोजन मिल रहा है। वेतन मांगने पर होटल मालिक की ओर से जान से मारने की धमकी दी जाती थी, जिसके कारण तीनों युवक चिन्तित हो गए और खुद को फंसा महसूस करते हुए एक मित्र को फोन कर पूरी हकीकत बताई। मित्र ने मलेशिया स्थित भारतीय दूतावास में पहुंचने की सलाह दी तो तीनों जने वहां जाने के लिए रवाना हुए, लेकिन किसी तरह होटल मालिक को पता चलने पर तीनों को रास्ते में ही कार में बंधक बना लिया और कार में घंटों तक घुमाते रहे। इस घटना का एक युवक ने वीडियो बनाया और परिजनों को भेज दिया, जिससे परिजन भी चिन्तित हैं।
बुधवार को वीडियो मिलने के बाद से परिजन चिन्तित थे। इस दौरान दो युवकों के पिताओं ने आणंद सांसद का सम्पर्क किया। सांसद ने इस संबंध में विदेश मंत्रालय को जानकारी दी और तीनों युवकों की जान जोखिम में होने का बताया, जिससे विदेश मंत्रालय की ओर से इस संबंध में मलेशिया स्थित भारतीय दूतावास एवं मलेशिया सरकार को जानकारी देकर तीनों युवकों को होटल मालिक के कब्जे से छुड़ाने व सुरक्षित भारत भेजने का कहा।


जमीन गिरवी रखकर भेजा था
मलेशिया में बंधक एक युवक के पिता का कहना है कि जमीन गिरवी रखकर रुपए लिए और बेटे को मलेशिया भेजा था, लेकिन मलेशिया में होटल मालिक की ओर से पिछले छह महीने से वेतन नहीं दिया जा रहा है। इतना ही नहीं, अपितु पर्याप्त भोजन भी नहीं दिया जा रहा है। ऐसे में पुत्र की सुरक्षा को लेकर चिन्तित हैं।
इसी प्रकार दूसरे युवक के पिता का कहना है कि ब्याज पर रुपए लेकर पुत्र को कमाने के लिए मलेशिया भेजा था।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned