एनसीबी ने 23 किलोग्राम चरस के साथ पांच को पकड़ा

ATS, Gujarat, Charas, Gujarat, Crime तीन कश्मीर के निवासी, २.९८ लाख की नकदी भी बरामद, सेव की पेटियों की आड़ में हो रही थी चरस की तस्करी

By: nagendra singh rathore

Published: 23 Jan 2021, 05:05 PM IST

अहमदाबाद. नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) ने चरस की एक बड़ी खेप को पकडऩे में सफलता पाई है। सेव की पेटियों के बीच छिपाकर ले जाई जा रही 23.७० किलोग्राम चरस को जब्त किया गया है। इस मामले में पांच आरोपियों को भी गिरफ्तार किया है, जिसमें से तीन आरोपी जम्मू एवं कश्मीर के रहने वाले हैं, जबकि दो गुजरात के निवासी है। आरोपियों के पास से २.९८ लाख रुपए की नकदी भी बरामद की गई है।
एनसीबी के क्षेत्रीय निदेशक एस.के.मिश्रा के अनुसार एनसीबी को सूचना मिली थी कि चरस की बड़ी खेप सेव भरे ट्रक में ले जाई जा रही है। जिसके आधार पर एनसीबी ने शहर के वस्त्राल इलाके में एक ट्रक को पकड़ा। उसमें जांच करने पर सेव की पेटियों में छिपाकर रखे गए 23 अलग अलग पैकेट जब्त किए गए। इनमें चरस थी, जिसका कुल वजन २३.७० किलोग्राम निकला। इस चरस को लेने के लिए सरखेज साणंद चौराहे पर आए दो व्यक्तियों को भी पकडऩे में सफलता मिली।
पकड़े गए आरोपियों में मुईन उल अशरफ (26), राजा रमीज खान (28) और मोहम्मद इरफान चोपन (23) ये तीनों जम्मू एवं कश्मीर के रहने वाले हैं। जबकि चौथा आरोपी आवेशखान पठान (33) पोरबंदर का और मकबूल यूसुफ महिडा (28) जूनागढ़ का रहने वाला है।
इसमें से आवेशखान और मकबूल को सरखेज-साणंद चौकड़ी से पकड़ा है। ये दोनों ही इस चरस को लेने के लिए अहमदाबाद पहुंचे थे। जबकि तीन जम्मू एवं कश्मीर के रहने वाले आरोपियों को वस्त्राल से पकड़ा गया है।
प्राथमिक जांच में पाया गया कि जब्त की गई चरस जम्मू एवं कश्मीर घाटी की है। जिसे गुजरात में बेचने के लिए लाया गया था। जब्त की गई चरस की कीमत ३४ लाख से ४६ लाख रुपए के करीब है।

nagendra singh rathore
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned