त्वचा संबंधित रोगों की जागरुकता के लिए अहमदाबाद पहुंचा रथ

१८ राज्यों में ११ हजार किलोमीटर लंबी यात्रा करने का लक्ष्य

By: Omprakash Sharma

Published: 30 Dec 2018, 10:56 PM IST

अहमदाबाद. इंडियन एसोसिएसन ऑफ ड्रमेटोलोजिस्ट, वेनेरोलोजिस्ट और लेप्रोलोजिस्ट (आईएनएल) की ओर से त्वचा संबंधित रोगों की जागरुकता के उद्देश्य से शुरू किया गया स्किन सफर रथ अहमदाबाद पहुंच गया। यह रथ गुजरात समेत १८ राज्यों में लगभग ११००० किलोमीटर का सफर तय करेगा।
त्वचा संबंधित चिकित्सकों का प्रतिनिधित्व करने वाले आईएनएल एसोसिएशन का यह रथ अहमदाबाद के गुजरात कैंसर सोसायटी संचालित जीसीएस मेडिकल कॉलेज अस्पताल में पहुंचा। वाहन में लगी बड़ी स्क्रीन पर त्वचा संबधित जानकारी दी गई। इस मौके पर अस्पताल के त्वचा विभाग की ओर से रोगों को लेकर अंधश्रद्धा को दूर कर उपचार करने की सलाह दी। मरीज और उनके परिजनों के अलावा अस्पताल के स्टाफ समेत चार सौ से पांच सौ लोग मौजूद रहे। त्वचा संबंधित रोगों की जानकारी मेडिकल कॉलेज के डीन डॉ. कीर्ती पटेल, चिकित्सा अधीक्षक डॉ. एन.के. राठौड़, डॉ. रंजन रावल, डॉ, नयन पटेल ने दी।
झोलाछाप डॉक्टर चढ़ा पुलिस के हत्थे
अवैध रूप से कर रहा था प्रेक्टिस
जामनगर. देवभूमि द्वारका जिले के सूरजकराळी-मीठापुर गाम पुलिस ने रविवार को झोलाछाप चिकित्सक को पकड़ लिया। पुलिस के मुताबिक बिना प्रमाणपत्र के ही वह मरीजों का उपचार कर रहा था। छापे के दौरान पुलिस ने क्लीनिक में से कई तरह की दवाइयां और इन्जेक्शन भी बरामद किए हैं।
देवभूमि द्वारका जिले का मीठापुर गाम फर्जी चिकित्सकों के मामले में पिछले काफी दिनों से चर्चा में रहा है। रविवार को स्थानीय पुलिस और स्वास्थ्य विभाग की टीम ने मीठापुर के मुख्य बाजार में अवैध रूप से चल रहे एक क्लीनिक पर छापा मारा। पुलिस के मुताबिक क्लीनिक में प्रेक्टिस कर रहे डॉ. आर.जी. पटेल नामक शख्स के पास आधिकारिक प्रमाणपत्र नहीं मिला। वह एलोपेथी दवाइयां और इंजेक्शन से भी मरीजों का उपचार कर रहा था। करीब डेढ़ वर्ष से प्रेक्टिस कर रहे पटेल के पास दूर-दूर से उपचार कराने के लिए लोग आते हैं। छापे के दौरान पुलिस ने क्लीनिक में से कई तरह की दवाइयां और इन्जेक्शन भी बरामद किए हैं।

Omprakash Sharma Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned