शिक्षक दिवस विशेष: विज्ञान को रोचक तरीके से पढ़ाने वाले शिक्षक प्रकाशचंद्र को राष्ट्रीय पुरस्कार

Best teacher award, National award, education, Sabarkantha, Prakashchandra suthar, Ahmedabad

By: nagendra singh rathore

Updated: 05 Sep 2020, 11:10 PM IST

हिम्मतनगर. विज्ञान जैसे जटिल विषय को रोचक तरीके से पढ़ाने वाले साबरकांठा जिले की वडाली तहसील के कंजेली गांव के शिक्षक प्रकाश चंद्र सुथार को शिक्षक दिवस पर भारत सरकार की ओर से राष्ट्रीय शिक्षक पुरस्कार से सम्मानित किया गया।
प्रकाशचंद्र देश के उन 47 श्रेष्ठ शिक्षकों में चुने गए हैं, जिन्हें शिक्षक दिवस पर राष्ट्रपति की ओर से सम्मानित किया जाएगा। कोरोना संक्रमण को देखते हुए वेबिनार के माध्यम से ही उन्हें यह पुरस्कार प्रदान किया जाएगा। इससे पहले वे वर्ष 2018 में गुजरात राज्य के श्रेष्ठ शिक्षक पुरस्कार से भी सम्मानित किए जा चुके हैं।
प्रकाशचंद्र सुथार साबरकांठा जिले के ऐसे पहले शिक्षक हैं, जिन्हें राज्य स्तरीय पुरस्कार के साथ राष्ट्रीय पुरस्कार भी मिलने जा रहा है। उन्होंने अमरेली जिले की जाफराबाद तहसील के टिंबी कन्या विद्यालय से अपने शिक्षक के कार्य की शुरूआत की। फिर वडाली तहसील के केशरगंज, चुल्ला और कंजेली विद्यालय का नाम रोशन किया है। उनके प्रयासों से सरकारी स्कूल के प्रति अभिभावकों की राय भी बदली है। साथ ही उदासीनता कम हुई है। इन्होंने बालिका शिक्षा, सामाजिक विकास में बच्चों का योगदान पर भी प्रेरक कार्य किया है।
प्रकाशचंद्र को आईआईएम अहमदाबाद की ओर से उनके विज्ञान विषय पर कार्य के लिए सर रतनटाटा इनोवेटिव टीचर अवार्ड से भी पुरस्कृत किया जा चुका है। उन्हें चित्रकूट अवार्ड, प्रो.पी.ए.पंड्या बेस्ट साइंस टीचर अवार्ड, बेस्ट प्रेक्टिसेस टीचर अवार्ड, गुरू गौरव अवार्ड प्राप्त कर चुके प्रकाशचंद्र राज्य के विज्ञान विषय के स्टेट रिसोर्स ग्रुप, प्रज्ञा अभिगम टेस्ट की कोर कमेटी के गत 20 वर्षों से सदस्य हैं।

विज्ञान को आसानी से समझाने को तीर्थयात्रा प्रोजेक्ट

विज्ञान को बेहतर और रोचक तरीके से पढ़ाने के लिए इन्होंने वर्ष 2001 से 'तीर्थ यात्रा प्रोजेक्टÓ शुरू किया। इसके तहत जिले व राज्य की बेहतर सरकारी, निजी और अनुदानित स्कूलों में तथा प्रशिक्षण संस्थाओं में अवकाश के दिन वे बच्चों को ले जाते और विज्ञान के विषयों के बारे में समझाते। इस प्रोजेक्ट के चलते स्कूल के बच्चों में विज्ञान के प्रति झुकाव हुआ। इस प्रोजेक्ट को गुजरात ही नहीं देशभर में काफी सराहा गया। यही वजह है कि उन्हें इस वर्ष राष्ट्रीय पुरस्कार से स मानित किया जा रहा है।

शिक्षक दिवस विशेष: विज्ञान को रोचक तरीके से पढ़ाने वाले शिक्षक प्रकाशचंद्र को राष्ट्रीय पुरस्कार
nagendra singh rathore
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned