हार्दिक के कथित वीडियो से भाजपा का लेना-देना नहीं

केन्द्रीय मंत्री मनसुख मांडविया ने कहा कि पाटीदार अनामत आंदोलन समिति के अश्विन सांकडासरिया की ओर से यू-ट्यूब पर रखे गए हार्दिक पटेल के कथित वीडियो से

By: मुकेश शर्मा

Published: 14 Nov 2017, 05:26 AM IST

अहमदाबाद।केन्द्रीय मंत्री मनसुख मांडविया ने कहा कि पाटीदार अनामत आंदोलन समिति के अश्विन सांकडासरिया की ओर से यू-ट्यूब पर रखे गए हार्दिक पटेल के कथित वीडियो से कोई लेना-देना नहीं है। हार्दिक के संदर्भ में जो घटना सोशल मीडिया के मार्फत सामने आई है, वह सार्वजनिक जीवन में लांछन समान है।

मांडविया ने कांग्रेस नेता शक्ति सिंह गोहिल के हार्दिक में सरदार पटेल के डीएनए वाले बयान पर कहा कि किसी के साथ सरदार पटेल का नाम जोडक़र कांग्रेस लौहपुरुष का अपमान कर रही है। कांग्रेस ने हार्दिक के डीएनए की तुलना सरदार पटेल के उत्तराधिकारियों के साथ कर सरदार पटेल के उत्तराधिकारियों का भी अपमान किया है।

केन्द्रीय मंत्री के मुताबिक, कांग्रेस भाजपा पर आरोप लगाने से पहले इस वीडियो के संबंध में शिकायत करनी चाहिए थी। कांग्रेस जिस रूप से हार्दिक को बचाने और हार्दिक के समर्थन में मैदान में उतरी है, वह काफी दु:खद है। कांग्रेस इस लांछन घटना का क्यों समर्थन कर रही है? यह समाज को नहीं समझ आ रहा है।

मांडविया के अनुसार कांग्रेस को यह बात स्पष्ट करनी चाहिए कि कांग्रेस हार्दिक का समर्थन कर रही है या इस क्षोभजनक घटना का समर्थन कर रही है।

चीफ न्यायालय से चोरी का आरोपी फरार


राजकोट तहसील पुलिस थानाकर्मियों के हाथों गिरफ्तार किया गया चोरी की तीन वारदातों का आरोपी स्थानीय चीफ न्यायालय से रविवार शाम को फरार हो गया।सूत्रों के अनुसार हाल ही जामनगर के पुलिसकर्मियों ने जामनगर जिले की जामजोधपुर तहसील के मोटी भरड गांव निवासी धवल उर्फ धवो उर्फ हितेश उका अजुडिया सहित दो जनों को पकड़ा। धवल ने राजकोट में वाहन चोरी की बात कबूल की। इस कारण राजकोट तहसील पुलिस थानाकर्मियों ने धवल को कब्जे में लिया।

राजकोट तहसील पुलिस थाने के हैड कांस्टेबल अशोक भंवरलाल कलाल की शिकायत पर धवल के विरुद्ध राजकोट ए डिविजन पुलिस थाने में मामला दर्ज किया गया। शिकायत के अनुसार धवल ने राजकोट में चोरी की तीन वारदातें कबूल की। इस कारण जामनगर पुलिस से उसको कब्जे में लिया गया।

राजकोट तहसील पुलिस थाने के उप निरीक्षक सी.एस. कासुंद्रा ने रिमांड रिपोर्ट के साथ आरोपी धवल को मोची बाजार के समीप स्थानीय चीफ न्यायालय के न्यायाधीश एच.एस. पटेल के समक्ष रविवार शाम को पेश किया। वहां से सोमवार शाम तक के लिए रिमांड मंजूर की गई।

इस बीच, क्लर्क के पास ले जाते समय आरोपी धवल पुलिसकर्मियों की नजर चुकाकर फरार हो गया। राजकोट तहसील पुलिस थाने के हैड कांस्टेबल अशोक भंवरलाल कलाल की शिकायत पर ए डिविजन पुलिस थाने के उप निरीक्षक बी.बी. कोडियातर ने जांच शुरू की है।

 

मुकेश शर्मा Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned