भाजपा प्रदेशाध्यक्ष पाटिल ने विधायक केतन को गांधीनगर बुलाया

बड़ौदा डेयरी के पशुपालकों को दूध में फेट के उचित दाम दिलाने का मामला

पुलिस की मंजूरी नहीं मिलने पर सर्किट हाऊस में बैठे थे धरने पर

By: Rajesh Bhatnagar

Published: 21 Sep 2021, 10:33 PM IST

वडोदरा. बड़ौदा डेयरी के सदस्य पशुपालकों को दूध में फेट के उचित दाम दिलाने के मामले में सावली के विधायक केतन इनामदार ने वडोदरा के सर्किट हाऊस में मंगलवार सवेरे धरना शुरू किया। भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सी.आर. पाटिल के बुलावे पर वे धरना छोडक़र करजण के विधायक अक्षय पटेल के साथ गांधीनगर रवाना हो गए।
केतन ने आरोप लगाते हुए कहा कि डेयरी के संचालकों ने तानाशाहीपूर्वक रवैया अपना रखा है, डेयरी के सदस्यों के आक्रोश का ज्वालामुखी बनकर बाहर आ सकता है। उन्होंने कहा कि इसलिए वे हरसंभव प्रयास कर दूध में फेट के उचित दाम दिलाकर रहेंगे। बाद में वे गांधीनगर रवाना हो गए। डभोई के विधायक शैलेष महेता व वाघोडिया के विधायक मधुभाई श्रीवास्तव इस मामले को लेकर पहले ही गांधीनगर पहुंच गए।
इससे पहले, भाजपा के जिला प्रभारी पराक्रमसिंह जाडेजा, सांसद रंजनबेन भट्ट सहित जिले के चारों भाजपा विधायकों के बीच सर्किट हाऊस में बैठक हुई। केतन ने बड़ौदा डेयरी के बाहर धरने की अनुमति मांगी थी लेकिन पुलिस की ओर से अनुमति नहीं मिलने पर उन्होंने सर्किट हाऊस में धरना शुरू किया।

सावली से वडोदरा आ रहे पशुपालक हिरासत में

केतन के भाई संदीप इनामदार के नेतृत्व में जिला कलक्टर को ज्ञापन देने के लिए सावली से पशुपालकों ने वडोदरा पहुंचने की घोषणा की थी। सावली से वडोदरा आने वाले मार्गों पर जिला पुलिस की ओर से कड़ा बंदोबस्त किया गया। सावली से रवाना हुए कुछ पशुपालकों को गोठवा, मंजुसर में हिरासत में ले लिया गया।
उनके अलावा वडोदरा तक पहुंचे पशुपालकों को दुमाड चौराहे पर हिरासत में लिया गया। इस मौके पर पशुपालकों ने बड़ौदा डेयरी के संचालकों के विरुद्ध नारेबाजी की। पशुपालकों की ओर से जिला कलक्टर को ज्ञापन देने के बाद बड़ौदा डेयरी के बाहर प्रतीक धरने पर बैठने की घोषणा की गई थी। इस कारण कलक्टर कार्यालय व डेयरी के बाहर शहर पुलिस की ओर से कड़ा बंदोबस्त किया गया।

Rajesh Bhatnagar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned