डीटूडी इंजीनियरिंग की रिक्त सीटों पर बीएससी वाले भी पा सकेंगे प्रवेश

डीटूडी इंजीनियरिंग की रिक्त सीटों पर बीएससी वाले भी पा सकेंगे प्रवेश

nagendra singh rathore | Publish: Aug, 12 2018 10:06:32 PM (IST) Ahmedabad, Gujarat, India

४१ हजार सीटें हैं खाली, सिर्फ ७२०० ने ही लिया प्रवेश,
रिक्त सीटों पर प्रवेश के लिए १४ से मिलेंगे पिन

अहमदाबाद. डिप्लोमा इंजीनियरिंग (डीई) धारकों के लिए डिग्री इंजीनियरिंग (बीई) के दूसरे वर्ष में प्रवेश के लिए आरक्षित सीटों (डीटूडी) में से ४१ हजार सीटें रिक्त रही हैं।
दो चरणों की प्रवेश प्रक्रिया करने के बावजूद भी सिर्फ ७२०० विद्यार्थियों ने ही प्रवेश लिया है। रिक्त रहीं सीटों पर डीई धारक विद्यार्थियों के अलावा बीएससी की डिग्री करने वाले विद्यार्थी भी प्रवेश पा सकते हैं। लेकिन इसके लिए विद्यार्थियों का 12वीं विज्ञान संकाय में गणित विषय से उत्तीर्ण होना जरूरी है।
रिक्त रहीं इन सीटों पर प्रवेश के लिए व्यावसायिक पाठ्यक्रम प्रवेश समिति (एसीपीसी) ने १४ अगस्त से कोटक महिन्द्रा बैंक की चुनिंदा शाखाओं से नए सिरे से पिन नंबर का वितरण शुरू करने की घोषणा की है। विद्यार्थी १८ अगस्त तक बैंक से पिन नंबर लेकर ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं। इसके बाद उन्हें २० अगस्त तक कॉलेजों में जाकर आवेदन करना होगा।
आवेदनों के आधार पर कॉलेजों को २८ अगस्त तक उनके कॉलेज में आने वाले आवेदनों के आधार पर उसकी मेरिट लिस्ट घोषित करके प्रवेश प्रक्रिया पूरी करनी होगी।
अन्य राज्य के विद्यार्थी भी कर सकेंगे आवेदन
डीटूडी कोर्स में रिक्त रहने वाली सीटों पर प्रवेश के लिए बाहरी राज्यों के डिप्लोमा इंजीनियरिंग धारक और बीएससी धारक विद्यार्थी भी आवेदन कर सकते हैं।

एमई-एमफार्म की रिक्त सीटों पर प्रवेश को १६ से मिलेंगे पिन
अहमदाबाद. राज्य की एमई और एमफार्म कॉलेजों में उपलब्ध सीटों पर प्रवेश के दो राउंड पूरे करने के बावजूद भी रिक्त रहीं चार हजार सीटों पर प्रवेश के लिए १६ अगस्त से कोटक महिन्द्रा बैंक की चुनिंदा शाखाओं से पिन नंबर मिलेंगे।
प्रवेश के इच्छुक विद्यार्थी २२ अगस्त तक पिन नंबर खरीदने के बाद ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करा सकेंगे। इसके बाद उन्हें प्रवेश के लिए जिस निजी कॉलेज में सीटें खाली हैं ऐसे कॉलेज में जाकर रजिस्ट्रेशन की जानकारी की रसीद के साथ आवेदन करना होगा। २३ अगस्त तक वह आवेदन कर सकते हैं। इसके आधार पर कॉलेज की ओर से २४ से २९ अगस्त के दौरान आवेदकों की मेरिट लिस्ट बनाकर उसके आधार पर प्रवेश प्रक्रिया करनी होगी।
सरकारी, अनुदानित कॉलेजों की रिक्त सीटों को भरने के लिए एक बार फिर से ऑनलाइन सहमति विद्यार्थियों से मांगी गई है।
गेट/जीपेट न देने वाले भी कर सकते हंै आवेदन
१६ अगस्त से मिलने शुरू हो रहे पिन नंबर के दौरान इस वर्ष २०१८ में एमई एवं एमफार्म में प्रवेश के लिए जरूरी गेट एवं जीपेट नहीं दे पाए हैं ऐसे बीई में ५० प्रतिशत और बीफार्म में ५५ प्रतिशत अंक के साथ उत्तीर्ण विद्यार्थी भी आवेदन कर सकते हैं। इसके अलावा पहले जो विद्यार्थी आवेदन नहीं कर पाए हैं वह भी आवेदन कर सकते हैं।

Ad Block is Banned