scriptbuzzing sound After 22 months in anganwadis and Bal Mandirs | 22 महीनों बाद आंगनबाडियों व बाल मंदिरों में गूंजी किलकारी | Patrika News

22 महीनों बाद आंगनबाडियों व बाल मंदिरों में गूंजी किलकारी

कोरोना संक्रमण कम होने पर राज्य सरकार ने दी शैक्षिक कार्य आरंभ करने की मंजूरी

गाइडलाइन का किया पालन

अहमदाबाद

Published: February 17, 2022 10:25:59 pm

राजकोट/जामनगर. कोरोना संक्रमण में कमी होने के साथ ही राज्य सरकार की ओर से मंजूरी दिए जाने पर गुरुवार से आंगनबाडिय़ों- नंदघरों व बाल मंदिरों में बच्चों की किलकारी गूंज उठीं। करीब 22 महीनों बाद कोरोना गाइडलाइन का पालन करते हुए इनमें शैक्षिक कार्य आरंभ हुआ है।
राजकोट शहर में गुरुवार को अधिकांश बच्चे मास्क पहनकर आंगनबाडिय़ों व बाल मंदिरों में पहुंचे। वहां कुछ बच्चों ने पढ़ाई की और कुछ ने झूलों व फिसलपट्टी पर खेलने का आनंद लिया। बच्चों ने लंबे समय बाद घर परिवार को छोडक़र शिक्षकों से ज्ञान अर्जित करने की शुरुआत की।
जामनगर शहर व जिले के बाल मंदिरों व आंगनबाडिय़ों में भी कोरोना गाइडलाइन का पालन करते हुए शैक्षिक कार्य आरंभ किया गया। इसके साथ ही इनमें बच्चों की किलकारियां गूंज उठीं। जामनगर शहर के साथ-साथ आसपास के ग्रामीण क्षेत्रों में भी राज्य सरकार के निर्देशानुसार आंगनबाडी, बालमंदिर, लोअर के.जी. अपर के.जी. व नंद घरों में अध्यापन कार्य शुरू कर दिया गया।
बच्चे भी उत्साहपूर्वक शिक्षण कार्य में शामिल हुए। छात्र-छात्राएं मास्क पहनकर और सेनेटाइजर का उपयोग कर पहुंचे। शिक्षकों ने सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान में रखते हुए बैठने की व्यवस्था की। हालांकि पहले दिन उपस्थिति कम रही, लेकिन ऑफलाइन शिक्षा के साथ-साथ खेल गतिविधियों को लेकर भी बच्चों में उत्साह देखा गया।
22 महीनों बाद आंगनबाडियों व बाल मंदिरों में गूंजी किलकारी
राजकोट शहर की एक आंगनबाड़ी में खेलते बच्चे।
शिक्षा की नींव मजबूत करने को प्रोजेक्ट पा पा पगली लागू

वडोदरा. महिला व बाल विकास राज्यमंत्री मनीषा वकील ने कहा कि आंगनबाड़ी की कक्षाओं से बच्चों की शिक्षा की नींव मजबूत करने को प्रोजेक्ट पा पा पगली लागू किया गया है।वडोदरा के बापोद स्थित धनलक्ष्मी नंदघर-आंगनबाड़ी में बच्चों का स्वागत करने पहुंचीं महिला एवं बाल विकास राज्यमंत्री मनीषा वकील ने यह बात कही। उनके साथ सांसद रंजनबेन भट्ट, महापौर केयूर रोकडिय़ा भी थे। उन्होंने फूलों से से बच्चों का स्वागत किया। मास्क और सेनेटाइजर का महत्व भी बताया। बच्चों को फलों की टोकरियां भी बांटी गई। आंगनबाड़ी में बच्चों के लिए सेनेटाइजेशन की भी व्यवस्था की गई है।
मनीषा ने कहा कि सरकार ने शैक्षणिक वर्ष 2021-22 में प्रोजेक्ट पा पा पगली के माध्यम से आंगनबाड़ी में आने वाले 3 से 5 वर्ष के बच्चों के जीवन की गुणवत्ता के लिए एक मजबूत नींव रखने का महत्वाकांक्षी लक्ष्य रखा है। नई शिक्षा नीति 2020 के तहत बच्चे की स्कूली शिक्षा के लिए प्री-प्राइमरी शिक्षा को बहुत महत्वपूर्ण माना गया है। उन्होंने कहा कि 3 से 5 वर्ष के को पूर्ण प्राथमिक शिक्षा केवल आंगनबाड़ी में ही दी जा रही है। पांच वर्ष के बाद बच्चे आंगनबाड़ी छोडक़र स्कूल के के.जी. (किंडरगार्डन) में प्रवेश लेंगे।
नई शिक्षा नीति 2020 के अनुसार आंगनबाड१ी कार्यकर्ता को 6 से 8 वर्ष के बच्चों की प्री-प्राइमरी शिक्षा के लिए प्रशिक्षित किया जाएगा। इसके लिए जीसीईआरटी आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं के लिए उनकी शैक्षणिक योग्यता के अनुसार ऑनलाइन या दूरस्थ शिक्षा पाठ्यक्रम और प्रशिक्षण का आयोजन करेगा। पूर्व राज्य मंत्री व विधायक योगेश पटेल, भाजपा शहर अध्यक्ष डॉ. विजय शाह आदि भी मौजूद थे।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

यहाँ बचपन से बच्ची को पाल-पोसकर बड़ा करता है पिता, जैसे हुई जवान बन जाता है पतियूपी में घर बनवाना हुआ आसान, सस्ती हुई सीमेंट, स्टील के दाम भी धड़ामName Astrology: पिता के लिए भाग्यशाली होती हैं इन नाम की लड़कियां, कहलाती हैं 'पापा की परी'इन 4 राशियों के लड़के अपनी लाइफ पार्टनर को रखते हैं बेहद खुश, Best Husband होते हैं साबितजून में इन 4 राशि वालों के करियर को मिलेगी नई दिशा, प्रमोशन और तरक्की के जबरदस्त आसारमस्तमौला होते हैं इन 4 बर्थ डेट वाले लोग, खुलकर जीते हैं अपनी जिंदगी, धन की नहीं होती कमी1119 किलोमीटर लंबी 13 सड़कों पर पर्सनल कारों का नहीं लगेगा टोल टैक्ससंयुक्त राष्ट्र की चेतावनी: दुनिया के पास बचा सिर्फ 70 दिन का गेहूं, भारत पर दुनिया की नजर

बड़ी खबरें

आंध्र प्रदेश में जिले का नाम बदलने पर हिंसा, मंत्री का घर जलाया, कई घायलपंजाब के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री के OSD प्रदीप कुमार भी हुए गिरफ्तार, 27 मई तक पुलिस रिमांड में विजय सिंगलारिलीज से पहले 1 जून को गृहमंत्री अमित शाह देखेंगे अक्षय कुमार की 'पृथ्वीराज', जानिए किस वजह से रखी जा रहीं स्पेशल स्क्रीनिंगGujrat कांग्रेस के वरिष्ठ नेता का विवादित बयान, बोले- मंदिर की ईंटों पर कुत्ते करते हैं पेशाबIPL 2022, Qualifier 1 RR vs GT: मिलर के तूफान में उड़ा राजस्थान, गुजरात ने पहले ही सीजन में फाइनल में बनाई जगहRajya Sabha Election 2022: राजस्थान से मुस्लिम-आदिवासी नेता को उतार सकती है कांग्रेस'तुम्हारे कदम से मेरी आँखों में आँसू आ गए', सिंगला के खिलाफ भगवंत मान के एक्शन पर बोले केजरीवालसमलैंगिकता पर बोले CM नीतीश कुमार- 'लड़का-लड़का शादी कर लेंगे तो कोई पैदा कैसे होगा'
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.