35 लाख वसूलने का मामला दर्ज

वडोदरा व अहमदाबाद के 9 ज्योतिषियों पर

सामूहिक आत्महत्या प्रकरण

By: Rajesh Bhatnagar

Published: 05 Mar 2021, 10:55 PM IST

वडोदारा. शहर के समा क्षेत्र स्थित स्वाति सोसायटी में परिवार के 6 सदस्यों की ओर से किए गए सामूहिक आत्महत्या के प्रयास में तीन जनों की मौत के बाद वडोदरा व अहमदाबाद के 9 ज्योतिषियों पर 35 लाख रुपए वसूलने का मामला समा थाने में दर्ज करवाया गया है।
सूत्रों के अनुसार इमिटेशन ज्वेलरी के व्यवसायी नरेन्द्र सोनी व परिवार के 5 सदस्यों की ओर से सामूहिक आत्महत्या का प्रयास करने पर स्वयं नरेन्द्र, पुत्री रिया व पौत्र पार्थ की मौत हो गई थी। भाविन सोनी ने भी जहरीली दवा का सेवन किया था। सयाजी अस्पताल में उपचाराधीन भाविन ने मजिस्ट्रेट की मौजूदगी में पुलिस टीम को बयान दिया कि कर्ज के कारण आत्महत्या का प्रयास किया गया।
उसके अनुसार नरेन्द्र की आवक कम होने के बावजूद मकान पर 45 लाख रुपए का ऋण बिक्री के वास्ते लिया था। मकान पर पहले से ही 15 लाख रुपए का ऋण लिया था, इस कारण मकान बेचने के बावजूद खरीदार के नाम पर दस्तावेज तैयार नहीं करवा सके और किराए के मकान में रहने को मजबूर होना पड़ा। 40 लाख रुपए में मकान बेचने के चक्कर में 45 लाख रुपए का कर्ज हो गया।

वास्तु दोष दूर कराने के लिए की वसूली

इससे बाहर निकालने के लिए मकान में विधि कराने के नाम पर 9 ज्योतिषियों ने 35 लाख रुपए वसूल लिए। भाविन की ओर से पुलिस टीम को कई ज्योतिषियों के अधूरे नाम सहित सूची उपलब्ध करवाई गई है। इनमें गोत्री नहर के समीप ज्योतिष हेमंत जोशी का नाम शामिल है। हेमंत ने अहमदाबाद के ज्योतिष स्वराज जोशी से भेंट करवाई थी। दोनों पर सोनी परिवार से 13.50 लाख रुपए, अहमदाबाद के ज्योतिष प्रहलाद जोशी पर 2 लाख रुपए, अहमदाबाद के राणिप क्षेत्र निवासी ज्योतिष समीर जोशी पर 5 लाख रुपए वसूलने का आरोप लगाया है।
इस बीच, सोनी परिवार के सदस्य दर्शन करने पुष्कर गए और वहां भी ज्योतिष को 4 लाख रुपए दिए। नरेन्द्र ने पुष्कर में ज्योतिष विधि कराने से पहले ही आत्महत्या का निर्णय किया और कदम उठा लिया। शहर के पाणीगेट क्षेत्र निवासी ज्योतिष साहिल वोरा पर तंत्र-मंत्र के नाम पर सोनी परिवार से 3.50 लाख रुपए वसूलने का आरोप लगाया है। अहमदाबाद के ज्योतिष विजय जोशी अल्केश पर भाी 4.50 लाख रुपए वसूलने का आरोप है। सभी ज्योतिषियों पर सोनी परिवार से वास्तु दोष दूर कराने के लिए कुल 35 लाख रुपए वसूलने का आरोप लगाया गया है।

सुसाइड नोट लिखवाया, पुलिस ने किया कब्जे में

सामूहिक आत्महत्या से पहले सोनी परिवार की ओर से नरेन्द्र ने पुत्री से सुसाइड नोट लिखवाया था। भीगी व टुकड़े की हुई हालत में वह सुसाइड नोट पुलिस टीम ने कब्जे में लेकर विधि विज्ञान प्रयोगशाला (एफएसएल) में भिजवाया है।
पौत्र की हत्या का मामला दर्ज
सोनी परिवार के एक सदस्य ने पुलिस नियंत्रण कक्ष पर सूचना दी थी। सूचना मिलने पर पुलिस टीम मौके पर पहुंची। वहां भाविन, माता उर्वशी, पत्नी दीप्ति अर्धबेहोशी की हालत में मिले, उन्हें सयाजी अस्पताल में भर्ती किया है। मृतक नरेन्द्र के विरुद्ध पौत्र पार्थ की हत्या का मामला भी दर्ज किया गया है। पुलिस की दो टीमों ने ज्योतिषियों के नाम-पते के आधार पर जांच शुरू की है।

Rajesh Bhatnagar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned