मुनि चारित्ररत्न विजय का 29वां दीक्षा दिवस मनाया

पिछली 5 दिसंबर 1992 को सूरत में दीक्षा ग्रहण की थी

By: Rajesh Bhatnagar

Published: 26 Dec 2020, 12:09 AM IST

पाटण/हिम्मतनगर. पाटण जिला मुख्यालय पर पाटण शहर में पंचासरा जैन मंदिर के समीप स्थित त्रिस्तुतिक जैन संघ के उपाश्रय में विराजित आचार्य जयंतसेन सूरीश्वर के शिष्य मुनि चारित्ररत्न विजय का 29वां दीक्षा दिवस शुक्रवार को मनाया गया।
इस अवसर पर मुनि चारित्ररत्न विजय के संसारी परिवार बनासकांठा जिले की थराद तहसील के नारोली गांव निवासी वोहरा कीर्तिलाल नरसिंगभाई परिवार की ओर से मवेशियों को घासचारा और सब्जियां खिलाई गई। जनसेवा के कार्य में भिक्षुकों को मिष्ठान, कंबल, मास्क वितरित किए गए। मध्यम वर्ग के 29 परिवारों को 29 किलो राशन सामग्री वितरित की गई।
धार्मिक कार्यक्रम में जैन संघ के लोगों की ओर से आयंबिल तप की तपस्या की गई। पंचासरा जैन मंदिर में भगवान की अंगरचना की गई। उपाश्रय में दीक्षा दिवस की अनुमोदना के कार्यक्रम में साधु-साध्वियों के अलावा जैन संघ से जुड़े लोग मौजूद थे। गौरतलब है कि नितिनकुमार ने पिछली 5 दिसंबर 1992 को सूरत में दीक्षा ग्रहण की थी, तब उनका नामकरण मुनि चारित्ररत्न विजय रखा गया था।

Rajesh Bhatnagar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned