सिंधी भाषा-साहित्य के प्रचार-प्रसार के लिए समाज को एकजुट होने की जरूरत: पिंजानी

Central university of gujarat, sindhi language, Gujarat, Ahmedabad, VC -सीयूजी में मनाया गया सिंधी भाषा दिवस

By: nagendra singh rathore

Published: 12 Apr 2021, 11:55 PM IST

अहमदाबाद. गुजरात केन्द्रीय विश्वविद्यालय (सीयूजी) के सिंधी भाषा एवं साहित्य केन्द्र के तत्वावधान में सिंधी भाषा दिवस समारोह मनाया गया।
राष्ट्रीय सिंधी भाषा विकास परिषद के निदेशक डॉ प्रताप पिंजानी ने केन्द्र की योजनाओं की सराहना की। उन्होंने कहा कि सिंधी भाषा और साहित्य के प्रचार-प्रसार के लिए समाज को एकजुट होकर कार्य करने की जरूर है। डॉ.जेठो लालवानी ने अपना मनोगत व्यक्त करते हुए सभी सिंधी प्रेमियों के प्रति आभार माना।
कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए सीयूजी के कुलपति प्रो रमा शंकर दूबे ने सिंधी भाषा, साहित्य और संस्कृति के संरक्षण के प्रयासों पर बल दिया। सिंधी भाषा एवं साहित्य केन्द्र के मानद निदेशक प्रो.संजीव कुमार दुबे ने आभार व्यक्त किया। इससे पूर्व कार्यक्रम के आरंभ में संचालिका डॉ.विम्मी सदारंगानी ने सिंधी भाषा दिवस के महत्व पर प्रकाश डाला। साथ ही साहित्य अकादमी से पुरस्कृत गुजरात के सिंधी साहित्यकार डॉ जेठो लालवानी का अभिनंदन समारोह भी किया गया है।
डॉ सुशील धर्माणी ने डॉ जेठो लालवानी जी का परिचय दिया। डॉ लालवानी की पुरस्कृत कृति 'जिहादÓपर तमन्ना लालवानी, डॉ नरेश छटवाणी, डॉ रोशन गोलानी, प्रो रमेश लुहाना ने समीक्षात्मक वक्तव्य दिए।

nagendra singh rathore
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned