निवृत्त शिक्षक का एटीएम कार्ड बदलकर कर सवा लाख किए पार

निवृत्त शिक्षक का एटीएम कार्ड बदलकर कर सवा लाख किए पार

नौ फरवरी को गुरुद्वारा के पास एटीएम से रुपए निकालने के दौरान बदल लिया कार्ड, दो युवकों पर जताया शक

अहमदाबाद. माध्यमिक शिक्षक पद से सेवानिवृत्त हुए खेमपाल रामचंदानी (७२) का एटीएम कार्ड बदलकर दो युवकों ने उनका एटीएम पिन नंबर जानकर उनके खाते से एक लाख ३३ हजार रुपए पार कर दिए। पीडि़त शिक्षक ने इस मामले में वस्त्रापुर थाने में दो शख्स पर शंका जताते हुए प्राथमिकी दर्ज कराई है।
एसजी हाईवे गुरुद्वारा के पास संबंध बंगलोज में रहने वाले खेमपाल रामचंदानी नौ फरवरी की दोपहर को गुरुद्वारा के पास स्थित एसबीआई के एटीएम से रुपए निकालने के लिए पहुंचे थे। उन्होंने एटीएम से सात हजार रुपए निकाले और घर आ गए। मंगलवार को जब वह वापस रुपए निकालने के लिए थलतेज गांव एसजी मॉल में आंध्रप्रदेश बैंक के एटीएम में पहुंचे और कोशिश की तो पिन नंबर गलत बताया। दो बार कोशिश करने पर भी जब नहीं निकला तो पुत्र की मदद ली। तब पता चला कि वह जिस कार्ड से पैसे निकाल रहे हैं वह कार्ड उनका नहीं बल्कि किसी सवितादेवी के नाम का है।
तब जाकर शिक्षक को ध्यान में आया कि वह नौ फरवरी को जब एटीएम से रुपए निकाल रहे थे। उस दौरान एटीएम में दो २५ से २६ साल के युवक भी थे। रुपए निकालने के दौरान इन युवकों ने कहा कि मशीन रीइंसर्ट कार्ड डालने का कह रही है। इस पर मैने दोबारा कार्ड डाला था। इनके सामने ही पिन नंबर डालते हुए रुपए निकाले थे। रुपए गिनने के दौरान कार्ड मशीन में थी था। रुपए गिनने के बाद वह कार्ड लेकर वापस आ गए। इसी दौरान आरोपियों ने उनका एटीएम कार्ड बदल लिया। उनके खाते से एक के बाद एक करके नौ, १०, 11 और 12 फरवरी को सरखेज, चांदलोडिया, शास्त्रीनगर के अलग- अलग बैंकों के एटीएम से एक लाख ३३ हजार रुपए पार कर दिए। बैंक में जाकर पासबुक में एंट्री कराने पर इतने रुपए उनकी जानकारी के बाहर निकल जाने पर उन्होंने इस मामले में वस्त्रापुर थाने में दो युवकों पर शंका जताते हुए प्राथमिकी दर्ज कराई है।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned