छोटा उदेपुर जिला : खुद के खर्च से ग्रामीणों ने खोदा तालाब

जल संचय, ७०० फीट नीचे भी पानी नहीं

By: Gyan Prakash Sharma

Published: 07 Jul 2019, 04:50 PM IST

वडोदरा. छोटा उदेपुर जिले में पानी की किल्लत को हल करने के लिए कावरा गांव के लोगों ने जल संचय के लिए खुद के खर्च से तालाब खोदकर दूरदर्शिता का संदेश दिया है। गर्मी के मौसम में पानी के लिए संघर्ष करती महिलाएं जगह-जगह दिखाई देती हैं, जिसका एक कारण जमीन में जलस्तर कम होना है। ऐसे में इस समस्या का जल संचय ही एक उपाय है। केन्द्र सरकार भी जल संचय पर जोर दे रही है। ऐसे में छोटा उदेपुर जिले के आदिवासी क्षेत्र कावरा गांव के लोगों ने सरपंच के मार्गदर्शन में जल संचय के सपने को साकार कर बताया है।

 

७०० फीट नीचे भी पानी नहीं :

१८०० से अधिक की आबादी वाले इस गांव में यूं तो ५० से अधिक हैंडपंप व नलकूप हैं, लेकिन ७०० फीट गहराई में भी पानी नहीं मिलता, जिसके कारण ग्रामीणों को पानी के लिए परेशानियों का सामना करना पड़ता है। हालात यह थे कि ग्रामसभा या पंचायत की बैठक होती तो ग्रामीण पानी की समस्या का सवाल ही उठाते थे। इस समस्या को लेकर महिला सरपंच के पति मुकेश राठवा ने पत्नी के साथ चर्चा कर छोटा तालाब बनाने का तय किया। तालाब बनाने का तय करने के बाद ग्रामीणों का सहयोग लेने के लिए लोगों को समझाया और श्रमदान कराया। मशीनरी से १०० मीटर त्रिज्या में २५ फीट गहरे तालाब की खुदाई। इस तालाब को बनाने के लिए सभी ने श्रमयोग दिया और अपनी लाभ-हानि देखे बिना मशीनरी का उपयोग किया। सिर्फ डीजल खर्च ही मुकेशभाई से लिया था। तालाब तैयार हो गया और पहली बारिश में पानी की आवक होने से ग्रामीणों ने जल पूजन कर पानी का स्वागत किया।

Gyan Prakash Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned