Ahmedabad : 66 डिग्री झुकी हुई रीढ़ की हड्डी को किया 11 डिग्री

15 वर्ष से पीड़ा से त्रस्त युवती का सफल ऑपरेशन

अहमदाबाद के सिविल अस्पताल के चिकित्सकों की एक और सफलता

By: Omprakash Sharma

Published: 13 Oct 2021, 08:38 PM IST

अहमदाबाद. शहर के सिविल अस्पताल में एक युवती का रीढ़ की हड्डी संबंधित जटिल समस्या का सफल आपॅरेशन कर उसे पीड़ा मुक्त कर दिया गया। दरअसल 32 वर्षीय यह युवती 15 वर्ष से रीढ़ की 66 डिग्री तक झुकी हुई हड्डी से इस कदर परेशान थी कि उसका चलना-फिरना भी दूभर हो रहा था। अस्पताल की स्पाइन सर्जरी विभाग की टीम ने जटिल ऑपरेशन कर रीढ़ की हड्डी को सामान्य कर दिया। यह ऑपरेशन प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (पीएमजेएवाई) से किया गया जिससे मरीज को ऑपरेशन की एवज में खर्च भी नहीं करना पड़ा।
अहमदाबाद के हाथीजण निवासी 32 वर्षीय एक युवती रीढ़ के हड्डी के दो मणका एक दूसरे से चिपक गए थे। जिससे इस युवती का शरीर आगे की तरफ झुकता गया। कई अस्पतालों में उपचार भी किया गया लेकिन सफलता हाथ नहीं लगी। कुछ अस्पतालों में ऑपरेशन की एवज में तीन लाख रुपए तक खर्च बताया लेकिन परिजन असमर्थ थे। पिछले पन्द्रह वर्ष से असहाय पीड़ा झेल रही युवती को कुछ दिनों पहले अहमदाबाद के सिविल अस्पताल में लाया गया। जहां जांच करने पर पता चला कि युवती की कमर के भाग से शरीर 66 डिग्री तक आगे की ओर झुक गया। इस समस्या को चिकित्सकीय भाषा में एंकिलोजिंग स्पोंडिलोसिस कहा जाता है। जो गंभीर होने के साथ-साथ दुर्लभ भी है। सिविल अस्पताल के चिकित्सकों ने जटिल ऑपरेशन की चुनौती स्वीकार की और ऑर्थोपेडिक विभाग के सीनियर चिकित्सक डॉ. पियुष मित्तल के नेतृत्व में इसे सफलतापूर्वक किया गया।

चिपकी हुई हड्डी को काट कर लगाए गए स्क्रू
इस तरह के ऑपरेशन में किसी नस के डेमेज होने की आशंका को ध्यान में रखकर न्यूरो मॉनिटिरिंग भी करने की जरूरत हुई। लगातार तीन घंटे तक यह ऑपरेशन चला। रीढ़ की हड्डी का झुकने का कारण दो मणके आपस में चिपकना है। जहां से ये हड्डी चिपकी हुई थी वहां से काटा गया और उसे जाली के साथ स्क्रूल से जोड़ दिया गया। इस दौरान थोड़ी से भूल से मरीज को भारी नुकसान उठाना पड़ सकता था। जिसे ध्यान में रखकर काफी सतर्कता से इस ऑपरेशन को किया गया। मरीज के पास प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना का कार्ड होने से निशुल्क ऑपरेशन भी हो गया।
डॉ. पियुष मित्तल, ऑर्थोपेडिक विभाग सिविल अस्पताल

Omprakash Sharma Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned