Banks in Gujarat : स्टॉक ब्रोकर रह चुके इस सीएम ने बैंकों से कही यह बात

Banks in Gujarat :  स्टॉक ब्रोकर रह चुके इस सीएम ने बैंकों से कही यह बात
Banks in Gujarat : स्टॉक ब्रोकर रह चुके इस सीएम ने बैंकों से कही यह बात

Uday Kumar Patel | Updated: 17 Sep 2019, 11:07:03 PM (IST) Ahmedabad, Ahmedabad, Gujarat, India

-State level bankers committee SLBC meeting in Gandhinagar

-Gujarat news, Banks

गांधीनगर. मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने राष्ट्रीयकृत बैंकों से पारंपरिक सोच से बाहर निकलते हुए सरलता से कर्ज प्रदान करने का आह्वान किया। सोमवार को गांधीनगर में आयोजित 162वीं राज्यस्तरीय बैंकर्स समिति की बैठक की अध्यक्षता करते हुए उन्होंने यह बात कही।

उन्होंने कहा कि आक्रामक दृष्टिकोण के साथ व्यापार सुगमता (ईज ऑफ डूइंग बिजनेस) की पहल करते हुए कर्ज सहायता की जानी चाहिए। आज के दौर में लोगों को बैंकों की कर्ज सहायता से स्वावलंबी बनने के बदलावपूर्ण व्यवहार की आवश्यकता बैंकों को स्वीकारनी होगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने कहा कि अब वैश्वीकरण के चलते पूरी दुनिया खुल गई है। वहीं व्यापार सुगमता के कारण सरलीकरण होने से विकास की प्रतिस्पर्धा इतनी तीव्र हो गई है कि यदि पर्याप्त समर्थन और दीर्घ दृष्टिकोण नहीं हो तो विकास संभव नहीं है। इस नजरिए से बैंकों को ऐसी व्यवस्थाएं स्थापित करनी होंगी जिसमें केंद्र और राज्य सरकारों की विभिन्न योजनाओं के लाभ बैंकों के जरिए समाज की कतार में खड़े अंतिम व्यक्ति तक भली-भांति पहुंच सके।

एमएसएमई व युवा उद्यमियों को कर्ज सहायता के लिए ठोस कदम उठाएं बैंक

रूपाणी ने कहा कि गुजरात व्यापारी राज्य के रूप में प्रसिद्ध है और व्यापार-उद्योग तो गुजरात के डीएनए में है। स्वयं के बल पर समृद्धि हासिल करने वाला गुजरात आर्थिक दृष्टि से मजबूत स्थिति में है, लेकिन अब बैंकों को भी वर्तमान व्यापक स्थिति पर विचार कर करीब 34 लाख सूक्ष्म, लघु और मध्यम इकाइयों (एमएसएमई) और युवा उद्यमियों को अधिक सरलता के साथ कर्ज प्रदान कर सतत विकास के लिए ठोस कदम उठाने और योजनाएं बनाने की जरूरत है।
गुजरात सरकार द्वारा हरित एवं स्वच्छ ऊर्जा के लिए लागू की गई सोलर रूफटॉप योजना के लिए 1000 करोड़ रुपए की कर्ज सहायता के बजट आवंटन का जिक्र करते हुए श्री रूपाणी ने बैंकर्स से अपील की कि वे भी इस योजना के अंतर्गत सहायता के लिए आगे आएं।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned