वडोदरा में ईवीएम मशीनें सील करने पर हंगामा

Mukesh Sharma

Publish: Dec, 07 2017 09:53:33 (IST)

Ahmedabad, Gujarat, India
वडोदरा में ईवीएम मशीनें सील करने पर हंगामा

गुजरात विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण में आगामी 14 दिसंबर को वडोदरा जिले में होने वाले मतदान के लिए बुधवार को कांग्रेस उम्मीदवार की अनुपस्थिति में ईवीएम

वडोदरा।गुजरात विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण में आगामी 14 दिसंबर को वडोदरा जिले में होने वाले मतदान के लिए बुधवार को कांग्रेस उम्मीदवार की अनुपस्थिति में ईवीएम मशीनें सील करने पर हंगामा मचाने के बाद संबंधित अधिकारी ने मशीनें पुन: सील करवाने का निर्णय किया।

सूत्रों के अनुसार जिले की रावपुरा विधानसभा सीट के लिए 300 ईवीएम मशीनें आवंटित की गई हैं। यह मशीनें शहर में कारेली बाग क्षेत्र स्थित जिला शिक्षा व प्रशिक्षण भवन में रखी हैं। चुनाव ड्यूटी में लगाए कर्मचारियों ने कांग्रेस उम्मीदवार चंद्रकांत श्रीवास्तव की अनुपस्थिति में बुधवार को 300 में से 150 मशीनें सील कर दी गई।

शेष मशीनों को सील करने के लिए उन्हें सूचित किया गया। कांग्रेस कार्यकर्ता बुधवार सवेरे मशीनों की जांच करने पहुंचे तब उन्हें पता लगा कि शेष 150 मशीनें पहले ही सील कर दी गई। इस संबंध में सूचना मिलने पर कांग्रेस उम्मीदवार भी वहां पहुंचे। उन्होंने संबंधित अधिकारियों व कर्मचारियों के समक्ष विरोध किया। उन्होंने सहायक चुनाव अधिकारी राजश्री डामोर के समक्ष सील की गई 150 मशीनों की जांच करने के बाद सील करने की मांग की।

उन्होंने कहा कि इस प्रकार चुनाव करवाने का कोई अर्थ नहीं है। डामोर ने बताया कि 4, 5 व 6 दिसंबर को मशीनें सील करनी थी और कांग्रेस सहित सभी पार्टियों के उम्मीदवारों को उपस्थित रहने की जानकारी भी दी गई लेकिन कोई भी उपस्थित नहीं हुआ। इसलिए दिल्ली से आए चुनाव अधिकारियों की मौजूदगी में 150 मशीनें सील कर दी गई। कांग्रेस उम्मीदवार की मांग पर 150 मशीनें पुन: सील की जाएगी।

राजकोट मार्केट यार्ड अध्यक्ष सहित ५०० व्यापारी कांग्रेस में जुड़े!

राजकोट मार्केटिंग यार्ड कमीशन एजेंट एसोसिएशन के अध्यक्ष अतुलभाई कमाणी, उपाध्यक्ष किशोरभाई दौंगा सहित पूरा एसोसिएशन एवं यार्ड के व्यापारी निदेशक मंडल के सदस्य वल्लभभाई पटेल और कांतिभाई तळपदा सहित ५०० से अधिक व्यापारी मंगलवार को कांग्रेस में जुड़े। एसोसिएशन के स्नेह मिलन समारोह में मंगलवार को अराजकोट शहर कांग्रेस के अध्यक्ष इन्द्रनील राज्यगुरु व उपाध्यक्ष मितुल दौंगा की उपस्थिति में सभी ने कांग्रेस का खेस धारण किया। जीएसटी व नोटबंदी के चलते अनेक समस्याएं पैदा हुई हैं, लेकिन सरकार की ओर से समस्याओं को नहीं सुनने के कारण कांग्रेस में जुडऩे का निर्णय लेने की जानकारी मिली है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned