गुजरात में बंद का मिला-जुला असर

गुजरात में बंद का मिला-जुला असर

Uday Kumar Patel | Publish: Sep, 10 2018 06:00:39 PM (IST) Ahmedabad, Gujarat, India

-पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामों का कांग्रेस का विरोध

-कई कांग्रेसी नेता हिरासत में

-पार्टी कार्यकर्ताओं ने स्कूलें-दुकानें बंद कराई

 

अहमदाबाद. पेट्रोल और डीजल के बढ़ते दामों को लेकर कांग्रेस की ओर से सोमवार को आहूत भारत बंद का राज्यभर में मिश्रित असर देखा गया। प्रदेश कांग्रेस के बड़े नेता, एनएसयूआई, युवा कांग्रेस नेता, पार्टी के विधायकगण व कार्यकर्ता व समर्थक अपने-अपने इलाकों में बंद को लेकर निकले। अहमदाबाद के कुछ इलाकों में व्यापारियों ने अपनी दुकानें बंद रखीं वहीं स्कूलों को भी बंद कराया गया।
अहमदाबाद में गुजरात कांग्रेस के प्रभारी राजीव सातव, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अमित चावड़ा व विपक्ष के नेता परेश धानाणी व्यापारियों को अपनी दुकानें बंद रखने की अपील की। शहर में बंद के दौरान जमालपुर सहित कई जगहों पर कांग्रेस कार्यकर्ताओं को हिरासत में लिया गया।
राज्य में कुछ जगहों पर सार्वजनिक संपत्तियों के नुकसान पहुंचाने की भी घटनाओं की भी सूचना मिली है।
शहर के चांदखेड़ा, लॉ गार्डन, रायपुर, सरसपुर, बापूनगर, रखियाल सहित कुछ इलाकों में कांग्रेस कार्यकर्ताओं की ओर से जबरन स्कूल-कॉलेज बंद कराई गई वहीं खोखरा सहित कई इलाकों में दुकानें बंद कराई गई। कई स्कूलों में बच्चों को जल्द ही छुट्टी दे दी गई। शहर के आंबावाडी में दुकानें बंद देखी गई वहीं सीजी रोड, नेहरूनगर, सैटेलाइट, आश्रम रोड व अन्य जगहों पर छिट पुट रूप से दुकानेें बंद रहीं।
उधर गुजरात राज्य सडक़ परिवहन निगम (जीएसआरटीसी) ने करीब 100 बसों को सडक़ पर नहीं उतरने देने का निर्णय लिया। एसटी के 20 फीसदी सेवाएं बंद रहीं। सात डेपो और करीब 15 रूट बंद कराए गए।
उधर एहतियातन अहमदाबाद रेलवे स्टेशन और मणिनगर रेलवे स्टेशन व दक्षिणी रेलवे क्रॉसिंग के पास आरपीएफ की टीम तैनात की गई।
कांग्रेस ने कहा कि मोदी सरकार के कार्यकाल में आम आदमी पेट्रोल और डीजल के साथ-साथ अन्य वस्तुओं की महंगाई को लेकर त्रस्त है।


अधिकांश पेट्रोल पंप बंद, पुलिस का पहरा

बंद के दौरान शहर में अधिकतर पेट्रोल पंप बंद देखे गए वहीं इन पेट्रोल पंपों पर पुलिस का कड़ा पहरा भी देखा गया। कई पेट्रोल पंपों पर पेट्रोल भराने के लिए लोगों की भारी भीड़ देखी गई।

 

Ad Block is Banned