जूनागढ़ के कांग्रेस विधायक को मारपीट मामले में एक वर्ष की सजा

तीन पुत्रों को भी

By: Rajesh Bhatnagar

Published: 20 Feb 2021, 11:40 PM IST

जूनागढ़/राजकोट. जूनागढ़ के कांग्रेस विधायक भीखाभाई जोशी व उनके तीन पुत्रों को 12 वर्ष पहले हुई मारपीट के मामले में जूनागढ़ जिले के मेंदरडा स्थित न्यायालय की ओर से एक-एक वर्ष की कैद और 5000-5000 रुपए के जुर्माने की सजा सुनाई गई है।
सूत्रों के अनुसार वर्ष 2008 में ग्राम पंचायत के चुनाव में 15 हजार रुपए के खर्च के मुद्दे पर मेंदरडा तहसील के अमरापुर-काठी निवासी मुगर जुणेजा के मकान में पहुंचकर कांग्रेस विधायक भीखाभाई जोशी ने कथित तौर पर अभद्र व्यवहार किया और चुनाव खर्च चुकाने की बात कही लेकिन वह तैयार नहीं हुआ। इसके बाद भीखाभाई वहां से चले गए। कुछ समय बाद पुन: तलवार लेकर वहां पहुंचकर भीखाभाई ने तलवार से मुगर पर कथित तौर पर हमला किया और उनके पुत्रों भरत, मनोज व जयंतीभाई ने कथित तौर पर पिटाई की।
उस समय मुगर ने आरोपियों भीखाभाई जोशी, तीनों पुत्रों भरत, मनोज व जयंतीभाई के विरुद्ध मेंदरडा थाने में मामला दर्ज करवाया। मेंदरडा के न्यायालय में आरोप पत्र पेश होने के बाद दोनों पक्षों की दलीलें सुनकर आरोपियों को एक-एक वर्ष की कैद और 5000-5000 रुपए के जुर्माने की सजा सुनाई। फिलहाल आरोपी जमानत पर रिहा हैं। गौरतलब है कि जूनागढ जिला पंचायत के चुनाव में सासण सीट से भीखाभाई जोशी की पुत्रवधू और राजकोट के वार्ड 10 से पुत्री चुनाव मैदान में हैं।

Rajesh Bhatnagar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned