दुर्घटना में जख्मी मरीज को कोरोना, मौत पर हंगामा

स्टाफ के साथ परिजनों की कहासुनी

 

By: Gyan Prakash Sharma

Published: 07 Sep 2020, 12:27 AM IST

जामनगर. जीजी अस्पताल में रविवार को अस्पताल के कर्मचारियों और कोरोना मरीज के परिजनों के साथ कहासुनी व हंगामे की एक और घटना सामने आई। जामजोधपुर के आंबेडकर नगर में रहने वाले 50 वर्षीय गोविंद परमार 26 अगस्त को ध्राफा के पास स्कूटर स्लिप हो जाने के चलते जख्मी हो गए थे। उपचार के लिए जी.जीअस्पताल में भर्ती कराया। जहां कोरोना टेस्ट कराने पर वे संक्रमित पाए गए। जिस पर उन्हें कोविड केयर वार्ड में भर्ती किया। उपचार केदौरान रविवार सुबह उनकी मौत हो गई। इस पर उनके परिजनों ने हंगामा मचाना शुरू कर दिया। अस्पताल प्रबंधन पर लापरवाही काआरोप लगाते हुए शव को स्वीकारने से इनकार कर दिया। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर परिस्थिति को काबू में लिया।

खंभालिया कोडिव हॉस्पिटल का कलक्टर ने किया दौरा

जामनगर. देवभूमि द्वारका जिले की खंभालिया में स्थित कोविड हॉस्पिटल का जिला कलक्टर डॉ. नरेन्द्र कुमार मीणा ने शनिवार कोदौरा किया। जिले में कोरोना के संक्रमण को काबू में करने के लिए कोविड अस्पताल में मरीजों का किस प्रकार से उपचार किया जा रहा है और अस्पताल में किस प्रकार की व्यवस्थाएं मौजूद हैं उसका कलक्टर ने जायजा लिया और उसकी समीक्षा की।
कलक्टर ने करीब दो घंटे इस अस्पताल में बिताए। खुद कोरोना के मरीजों से बातचीत की। अस्पताल से डिस्चार्ज होने वाले मरीजों से भी बात की। अस्पताल के आईसीयू में भी उन्होंने समय बिताया। अस्पताल के अलावा घरों में रहकर होम आसोलेशन के तहत कोरोना का उपचार लेने वाले मरीजों का भी नियमित ध्यान रखने की उन्होंने सूचना दी।
अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक एवं अन्य कर्मचारियों, चिकित्सकों, नर्स से भी बातचीत कर स्थिति की समीक्षा की।

Gyan Prakash Sharma Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned