शहर पुलिस के ४७ वॉरियर्स कोरोना संक्रमित

Corona, Ahmedabad police, infected, Mask, Gujarat, curfew कोरोना अधिसूचना का उल्लंघन करने वाले २९३ लोगों पर कार्रवाई, मास्क के बिना मिले २७३ से वसूला दंड, ९२ वाहन डिटेन

By: nagendra singh rathore

Published: 22 Nov 2020, 10:31 PM IST

अहमदाबाद. शहर पुलिस आयुक्त संजय श्रीवास्तव ने कहा कि अहमदाबाद शहर में कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए दिन रात ड्यूटी पर तैनात रहने वाले पुलिस कर्मचारियों में से ४७ पुलिस कर्मचारी अभी कोरोना संक्रमित हैं। इसमें १३ पुलिस कर्मचारी रविवार को संक्रमित पाए गए हैं, जिसके चलते वे या तो होम आइशोलेशन में हैं या फिर अस्पताल में भर्ती हैं। जबकि पांच पुलिस कर्मचारियों ने कोरोना को मात देने में सफलता पाई है। रविवार को इनकी रिपोर्ट नेगेटिव आई।
पुलिस आयुक्त संजय श्रीवास्तव ने संवाददाताओं को बताया कि कोविड के संदर्भ में जारी अधिसूचना का उल्लंघन करने के आरोप में पुलिस ने रविवार को २९० लोगो को पकड़ा है। मास्क के बिना निकले २७३ लोगों से भी दो लाख ७३ हजार रुपए का अर्थदंड वसूल किया गया। ९३ वाहनों को डिटेन किया गया है।
पुलिस आयुक्त ने कहा कि शहर में रविवार तक कोविड अधिसूचना का उल्लंघन करने के आरोप में ३० हजार ८५१ केस दर्ज करते हुए ३९ हजार ५५२७ लोगों को पकड़ा जा चुका है। महामारी एक्ट के तहत ४३७० केस किए गए हैं, जबकि ५८८८ लोगों को पकड़ा गया है। ६४ हजार से ज्यादा वाहनों को अधिसूचना का उल्लंघन करने के चलते डिटेन किया गया है।
जबकि मास्क पहने बिना घर से बाहर निकलकर नियमों की अनदेखी करने वाले दो लाख ६८ हजार २३८ लोगों पर कार्रवाई की गई है। इनके पास से अब तक १३ करोड़ ४० लाख रुपए से ज्यादा का अर्थदंड वसूल किया जा चुका है।
शहर में कोरोना संक्रमण के दौरान उसे रोकने के लिए दिन रात ड्यूटी देकर कोरोना फ्रंट लाइन वॉरियर के रूप में सेवा देते हुए अब तक ९०६ पुलिस कर्मचारी कोरोना संक्रमित हुए हैं, जिसमें से ९ पुलिस कर्मचारियों की कोरोना के चलते मौत भी हो गई। उन्होंने बताया कि ८५० पुलिस कर्मचारियों ने कोरोना को मात दी है, जबकि अभी भी ४७ पुलिस कर्मचारी कोरोना संक्रमित हैं और अलग अलग अस्पतातों में भर्ती हैं या फिर होम आइशोलेशन में हैं।

COVID-19 virus
nagendra singh rathore
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned