scriptCorona cases increase after Deepawali | दीपावली बाद बढ़े कोरोना के केस, अस्पतालों मरीजों की संख्या कम | Patrika News

दीपावली बाद बढ़े कोरोना के केस, अस्पतालों मरीजों की संख्या कम

सिविल अस्पताल में तीन ही मरीज, निजी अस्पतालों में एक

महामारीको लेकर पहले से ही तैयारी कर चुका है स्वास्थ्य विभाग

अहमदाबाद

Published: November 18, 2021 10:49:49 pm

अहमदाबाद. दीपावली के बाद से कोरोना के मामलों में गत वर्ष की तरह ही वृद्धि होने लगी है। हालांकि इस बार मरीज अस्पतालों में कम भर्ती हो रहे हैं। चिकित्सकों का कहना है कि कोरोना का माइल्ड असर होने से अधिकांश मरीज घरों पर ही उपचार लेरहे हैं। शहर के मेडिसिटी स्थित 1200 बेड हॉस्पिटल में गुरुवार तक तीन ही मरीज भर्ती बताए गए हैं। हालांकि अहमदाबाद में फिलहाल एक्टिव मरीजों की संख्या 125 के आसपास पहुंच गई है। कोरोना के बढ़ रहे केसों को लेकर चिकित्सकों का कहना है कि अस्पतालों में पहले से ही सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। यदि बेड बढ़ाने की स्थिति हुई तो इसमें विलंब नहीं होगा। इस तरह की तैयारी स्वास्थ्य विभाग की ओर से पहले से ही की जा चुकी है।
राज्य में फिलहाल कोरोना के एक्टिव मरीज 291 हो गए हैं। इनमें से 124 मरीज अहमदाबाद शहर में हैं। इन मरीजों में से ज्यादातर घरों पर ही उपचार ले रहे हैं। सिविल अस्पताल के अतिरिक्त चिकित्सा अधीक्षक डॉ. रजनीश पटेल ने बताया कि 1200 बेड वाले अस्पताल में फिलहाल तीन ही मरीज कोरोना संक्रमित हैं। वैसे अभी तक जो कोरोना मरीज सामने आ रहे हैं उनमें कोरोना का गंभीर असर नहीं दिख रहा है जिससे उन्हें भर्ती करने की जरूरत भी नहीं है। ऐसे में घरों पर उपचार लेने वालों की संख्या अधिक है। हाल में 1200 बेड में से 200 बेड कोरोना मरीजों के उपचार के लिए आरक्षित हैं। यदि जरूरत होगी तो तुरंत और बेड की व्यवस्था कर दी जाएगी क्योंकि महामारी को ध्यान में रखकर पहले से ही सभी तैयारियां लगभग पूरी ही हैं। इनमें ऑक्सीजन, वेंटिलेटर व दवाइयों की व्यवस्था भी शामिल हैं। शहर के अन्य सोला सिविल अस्पताल में भी कोरोना बढऩे की आशंका को ध्यान में रखकर व्यवस्थाएं शुरू कर दी गई हैं। इस अस्पताल में कोरोना के उपचार के लिए 400 बेड तक की सुविधा उपलब्ध हो सकेगी। इनमें आईसीयू, वेंटिलेटर जैसे बेड भी शामिल हैं।

निजी अस्पतालों में भी कोरोना के चार मरीज

अहमदाबाद शहर के निजी अस्पतालों में कोरोना के चार ही मरीज भर्ती हैं। शहर के 43 निजी अस्पातालों में 2150 बेड आरक्षित हैं। अहमदाबाद हॉस्पिटल एंड नर्सिंग होम्स एसोसिएशन (एएचएनए) के अनुसार 2150 बेड विविध श्रेणियों में उपलब्ध है। इनमें एचडीयू श्रेणी के उपलब्ध 855 बेड में से दो पर ही मरीज है। जबकि आईसोलेशन श्रेणी के सभी 745 बेड में से एक पर मरीज भर्ती हुआ है। इसके अलावा एक मरीज वेंटिलेटर पर है। इन सभी अस्पतालों में आईसीयू में बिना वेंटिलेटर श्रेणी के 367 और आईसीयू वेंटिलेटर के साथ वाले सभी 183 बेड उपलब्ध हैं। कुल 2150 बेड में से 2146 खाली हैं।

एक सप्ताह स्पष्ट होगी स्थिति
कोरोना के आंकड़े बढ़े हैं लेकिन चिन्ताजनक नहीं है। आने वाले एक सप्ताह में कोरोना की वास्तविक स्थित सामने आएगी। हाल में कोरोना संक्रमित जो मरीज सामने आ रहे हैं उनमें गंभीर लक्षण नहीं हैं और ऐसे मरीज घरों पर उपचार ले सकते हैं। यही कारण है कि इन दिनों अस्पतालों में मरीजों की संख्या कम दिख रही है। वैसे कोरोना का कोई नया रूप अभी सामने नहीं आया है।
डॉ. राकेश जोशी, चिकित्सा अधीक्षक सिविल अस्पताल, अहमदाबाद
दीपावली बाद बढ़े कोरोना के केस, अस्पतालों मरीजों की संख्या कम
दीपावली बाद बढ़े कोरोना के केस, अस्पतालों मरीजों की संख्या कम

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Republic Day 2022: परम विशिष्ट सेवा मेडल के बाद नीरज चोपड़ा को पद्मश्री, देवेंद्र झाझरिया को पद्म भूषणRepublic Day 2022: 939 वीरों को मिलेंगे गैलेंट्री अवॉर्ड, सबसे ज्यादा मेडल जम्मू-कश्मीर पुलिस कोस्वास्थ्य मंत्री ने कोरोना हालातों पर राज्यों के साथ की बैठक, बोले- समय पर भेजें जांच और वैक्सीनेशन डाटाBudget 2022: कोरोना काल में दूसरी बार बजट पेश करेंगी निर्मला सीतारमण, जानिए तारीख और समयमुख्यमंत्री नितीश कुमार ने छोड़ा BJP का साथ, UP चुनावों में घोषित कर दिये 20 प्रत्याशीAloe Vera Juice: खाली पेट एलोवेरा जूस पीने से मिलते हैं गजब के फायदेगणतंत्र दिवस और स्वतंत्रता दिवस पर झंडा फहराने में क्या है अंतर, जानिए इसके बारे मेंRepublic Day 2022: गणतंत्र दिवस परेड में हरियाणा की झांकी का हिस्सा रहेंगे, स्वर्ण पदक विजेता नीरज चोपड़ा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.