अब गुजरात के 29 शहरों में लगेगा रात्रि corona curfew

कई बंदिशें भी लगेंगी, सभी रेस्टोरेन्ट बंद होंगे, मॉल, शोपिंग कॉम्प्लेक्स भी बंद रहेंगे

By: Pushpendra Rajput

Published: 27 Apr 2021, 08:53 PM IST

गांधीनगर. अब गुजरात के 29 शहरों में 28 अप्रेल से 5 मई तक रात्रि 8 से सुबह 6 बजे तक कोरोना कफ्र्यू रहेगा। साथ ही राज्य सरकार ने इन शहरों में कई बंदिशें भी लगाई हैं। भारत सरकार के गृह मंत्रालय की ओर से जारी नए दिशा-निर्देशों को लेकर मुख्यमंत्री विजय रुपाणी की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में ये निर्णय किए गए हैं।

राज्य सरकार के मुताबिक जहां पहले 8 महानगरों के अलावा 20 शहरों में रात्रि 8 से सुबह 6 बजे तक रात्रि कोरोना कफ्र्यू था। इनके अलावा अब हिम्मतनगर, पालनपुर, नवसारी, वलसाड, पोरबंदर, बोटाद, विरमगाम, छोटा उदेपुर तथा वेरावल-सोमाथ समेत 29 शहरों में रात्रि 8 से सुबह 6 बजे तक रात्रि कोरोना कफ्र्यू रहेगा।

इसके अलावा राज्य सरकार ने कई बंदिशें लगाई हैं, जिनमें अनाज-किराना की दुकान, सब्जी, फल-सब्जी, मेडिकल स्टोर, मिल्क पार्लर, बेकरी और खाद्य पदार्थों की दुकान खुली रहेंगी। वहीं इन शहरों में सभी उद्योगों, उत्पादन इकाइयों, कारखानों, एवं निर्माण क्षेत्र की इकाइयां खुली रहेंगी। हालांकि इन इकाइयों को दिशा-निर्देशों (एसओपी) का सक्ती से पालन करना होगा। वहीं सभी मेडिकल और पैरामेडिकल सेवाएंभी खुली रहेंगी।

इन सभी 29 शहरों में सभी रेस्टोरेन्ट बंद रहेंगे। सिर्फ टेक-अवे सेवाएं ही चालू रहेंगी। इसके अलावा मॉल, शोपिंग कॉम्प्लेक्स, गुजरी बाजार, सिनेमा हॉल, ऑडिटोरियम, जिम, स्वीमिंग पूल, वॉटरपार्क, बाग-बगीचे, सैलून, स्पा, ब्यूटी पार्लर और अन्य एम्युजमेन्ट प्रवृत्तियां बंद रहेंगी।

राज्य में सभी एपीएमसी बंद रहेंगे। सिर्फ सब्जी और फलों की बिक्री से संबंधित एपीएमसी ही खुले रहेंगे। राज्य में धार्मिक स्थलों पर आमजन का प्रवेश बंद रहेगा। सिर्फ इन धार्मिक स्थलों पर संचालक और पुजारी पूजा विधि कर सकेंगे। राज्यभर में पब्लिक बस ट्रांसपोर्ट पचास फीसदी क्षमता के साथ चलेंगे। विवाह समारोहों में नियमानुसार ज्यादा से ज्यादा 50 व्यक्ति ही उपस्थित रह सकेंगे। अंतिम विधियों में 20 व्यक्ति ही हाजिर रह सकेंगे।

मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में गृहमंत्री प्रदीपसिंह जाड़ेजा, मुख्य सचिव अनिल मुकीम, अतिरिक्त मुख्य सचिव (गृह) पंकज कुमार, अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक आशीष भाटिया, स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव डॉ. जयंती रवि समेत कई वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

Pushpendra Rajput Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned