scriptcorona guide line, marriage, guest, parti plots | Gujarat news : अब कहना पड़ रहा है 'बहनों-भाइयों मत आइयो' | Patrika News

Gujarat news : अब कहना पड़ रहा है 'बहनों-भाइयों मत आइयो'

corona guide line, marriage, guest, parti plots; कोरोना की बंदिशों का साया, विवाह समारोहों में अतिथियों की सूची छंटनी

अहमदाबाद

Published: January 19, 2022 10:48:51 pm

गांधीनगर. मकर संक्रांति पर मलमास खत्म होने के बाद शादियों में शहनाई की गूंज शुरू हो गई है, लेकिन शादी सामरोहों में आने वाले मेहमानों पर कोरोना गाइडलाइन की बंदिशें लग गई है। ऐसे में अब मेहमानों की सूची छोटी होने लगी है। शादी समारोहों पर कोरोना का ग्रहण लग गया है।
Gujarat news : अब कहना पड़ रहा है 'बहनों-भाइयों मत आइयो'
Gujarat news : अब कहना पड़ रहा है 'बहनों-भाइयों मत आइयो'
जनवरी माह से कोरोना संक्रमण मामलों में लगातार इजाफा होने से धूमधाम से अपने बच्चों की शादी के सपने संजोने वाले अभिभावकों के चेहरों पर चिंता की लकीर खींच दी है। ऐसे में 22 जनवरी से शुरू हो रहे वैवाहिक सीजन के बावजूद शादी वाले घरों में पसोपेश का माहौल है। जिन घरों में शादी होनी है, वहां कइयों ने तो सभी मेहमानों को कार्ड बांटने के साथ ही फोन पर न्योता दे दिया है। पार्टी प्लॉट, रेस्टोरेन्ट और होटलों में भी बुकिंग की जा चुकी है। जिन अभिभावकों ने पहले शादी समारोहों बुलाने के लिए 400 मेहमानों के हिसाब से सूची बनाई थी, लेकिन अब कोरोना को लेकर सरकार की नई गाइडलाइन में सिर्फ 150 तक मेहमानों की अनुमति दी है। ऐसे में अब अभिभावकों ने मेहमानों की सूची छोटी करनी प्रारंभ कर दी है। वहीं प्रशासन के सामने भी शादी में लोगों की संख्या सीमित करना और कोविड गाइडलाइन की पालना करवाना चुनौती बन गया है। शादी समारोहों के लिए बकायदा रजिस्ट्रेशन कराना भी अनिवार्य किया गया है।

फंसे संशय में किसे बुलाएं, किसे नहीं?
निकोल में रहनेवाले प्रकाश रावल बताते हैं कि बेटे की शादी 5 फरवरी को तय है। शादी की तैयारियों को लेकर छह माह से तैयारियां चल रही थी। 400 मेहमानों के हिसाब से सूची बनाई थी, लेकिन अब मेहमानों और कैटरिंग के साथ 150 व्यक्तियों को सरकार ने गाइड लाइन बनाई है। ऐसे में मेहमानों को बुलाने को दुविधा हो रही है, किसे बुलाएं किसे नहीं? कार्ड भी बांटे चुके हैं। कैटरिंग और बैण्डबाजा वालों को बयाना दिया जा चुका है।
फोन कर मना करना पड़ रहा है
नवा नरोडा आर.के. सिंह ने बताया कि बेटी की शादी 23 जनवरी को होनी है अब तो पांच से छह दिन ही बकाया है। जहां पहले घर-घर कार्ड पहुंचाए थे, एक-एक मेहमान को फोन कर न्यौता दिया। अब कई मेहमानों को फोन कर मना करना पड़ रहा है। पार्टी प्लॉट और कैटेरिंग वाले चार्ज घटाने को राजी नहीं है। खर्च उतना ही पड़ रहा है. मेहमान भले कम हो गए।
टकराव हो रहा है अतिथियों से
अमराईवाडी में एक रेस्टोरेन्ट के संचालक राजेशसिंह ने बताया कि मेहमानों की कम होने से दिक्कत हो रही है। जिन लोगों ने बुकिंग कराई है उनसे मेहमानों की संख्या को लेकर टकराव भी हो रहा है। जिन बुकिंग कराने वालों ने 500 मेहमानों की सूची थी अब घटाकर 150 कर रहे हैं। सरकारी गाइडलाइन में समय घटाने से कारोबार को भी खासा नुकसान हो रहा है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

सीएम Yogi का बड़ा ऐलान, हर परिवार के एक सदस्य को मिलेगी सरकारी नौकरीचंडीमंदिर वेस्टर्न कमांड लाए गए श्योक नदी हादसे में बचे 19 सैनिकआय से अधिक संपत्ति मामले में हरियाणा के पूर्व CM ओमप्रकाश चौटाला को 4 साल की जेल, 50 लाख रुपए जुर्माना31 मई को सत्ता के 8 साल पूरा होने पर पीएम मोदी शिमला में करेंगे रोड शो, किसानों को करेंगे संबोधितराहुल गांधी ने बीजेपी पर साधा निशाना, कहा - 'नेहरू ने लोकतंत्र की जड़ों को किया मजबूत, 8 वर्षों में भाजपा ने किया कमजोर'Renault Kiger: फैमिली के लिए बेस्ट है ये किफायती सब-कॉम्पैक्ट SUV, कम दाम में बेहतर सेफ़्टी और महज 40 पैसे/Km का मेंटनेंस खर्चIPL 2022, RR vs RCB Qualifier 2: राजस्थान ने बैंगलोर को 7 विकेट से हराया, दूसरी बार IPL फाइनल में बनाई जगहपूर्व विधायक पीसी जार्ज को बड़ी राहत, हेट स्पीच के मामले में केरल हाईकोर्ट ने इस शर्त पर दी जमानत
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.