दुबारा हो सकता है कोरोना संक्रमण

वायरस अपनी पेटर्न बदलता है, 10-15 उप विभाग हैं

By: Rajesh Bhatnagar

Published: 03 Dec 2020, 11:11 PM IST

राजेश भटनागर
अहमदाबाद. शहर में 40 वर्ष से पुल्मोलॉजिस्ट के तौर पर कार्यरत और एसोसिएशन ऑफ चेस्ट फिजिशियन ऑफ गुजरात के पूर्व अध्यक्ष डॉ. नरेन्द्र रावल ने कहा कि एक बार जिसको कोरोना संक्रमण हुआ और लक्षण कम थे, एंटी कोरोना वायरल की दवा नहीं ली, रेमडेसिविर इंजेक्शन नहीं लगवाए, अधिक उम्र के लोगों को भी दुबारा कोरोना संक्रमण होने की संभावना है।
अहमदाबाद में कोरोना को ऑब्जर्व करने पर लगता है कि 2-5 लोगों को दुबारा कोरोना संक्रमण हुआ। वायरस अपनी पेटर्न बदलता है। कोरोना वायरस के भी 10-15 उप विभाग हैं। सात नंबर का कोरोना होने के बाद दूसरे नंबर का कोरोना होने की भी संभावना है। ऐसा एक लाख में 1-2 मरीज को ऐसा होता है। इसलिए कोई भी तकलीफ होने पर चिकित्सक से मिलना चाहिए, वह सही राय देंगे। कोई प्रश्न होने पर दूसरे चिकित्सक से भी मिलना चाहिए और सही दवा लेनी चाहिए। हालांकि दुबारा संक्रमण होने की संभावना कम है।

नेगेटिव रिपोर्ट के बावजूद कोरोना संक्रमण संभव

रेपिड एंटीजन टेस्ट में 40 प्रतिशत के आस-पास कोरोना हो तो भी रिपोर्ट नेगेटिव आने की संभावना रहती है। आरटी-पीसीआर टेस्ट में भी 25-25 प्रतिशत कोरोना हो तो भी रिपोर्ट नेगेटिव आने की संभावना रहती है। शरीर में कोरोना के जंतु होने के बाद भी वो मल्टीप्लाई नहीं होने पर रोग पैदा नहीं करते, शरीर में जब जंतु प्रवेश करते हैं, रोग पैदा होता है। इसके बावजूद इन्क्युबेशन पीरियड में किसी भी मरीज की रिपोर्ट नेगेटिव आने की संभावना रहती है।
लक्षण होने के बाद भी जांच रिपोर्ट नेगेटिव आने पर पांच-सात दिन के बाद दुबारा आरटी-पीसीआर जांच करवानी चाहिए। इसके बावजूद रिपोर्ट नेगेटिव आए लेकिन लक्षण दिखाई दें तो सीटी स्केन करवाना चाहिए। वह भी आरटी-पीसीआर के समान उपयोगी इंडीकेशान है। रिपोर्ट नेगेटिव आने के बाद भी कोरोना संक्रमण होने की संभावना रहती है इसलिए रोगी की कंप्लेन बहुत महत्व रखती है। चिकित्सक सबसे पहले रोगी की कंप्लेन देखते हैं, रक्त जांच की रिपोर्ट, रेपिड एंटीजन व आारटी-पीसीआर जांच की रिपोर्ट और सीटी स्केन की रिपोर्ट देखकर सब को मिलाकर चिकित्सक कौनसी व कितने समय तक तदवाई देने के नतीजे पर पहुंचते हैं।

Rajesh Bhatnagar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned