Corona: आईआईएम अहमदाबाद ने कोरोना काल के दौरान 2300 से ज्यादा परिवारों की मदद की

Corona, Lockdown, IIM-Ahmedabad, Gujarat,

By: Uday Kumar Patel

Published: 02 Jul 2020, 09:41 PM IST

अहमदाबाद. कोरोना के चलते देशव्यापी लॉकडाउन के दौरान भारतीय प्रबंध संस्थान (आई आई एम)-अहमदाबाद ने सामुदायिक सेवा की । संस्थान में फैकल्टी, छात्रों, शोधकर्ताओं और कर्मचारियों के एक समूह ने कम आय वाले परिवारों और प्रवासी श्रमिकों, जो लॉक डाउन के दौरान प्रतिकूल रूप से असरग्रस्त रहे, की मदद के लिए 80 से अधिक स्वयंसेवकों की एक टीम का गठन किया। अब तक टीम ने 2300 से अधिक परिवारों और 800 से अधिक प्रवासी श्रमिकों को राशन किट, वित्तीय सहायता, सामुदायिक रसोई की सहायता और प्रवासियों को उनके वतन तक पहुंचाने में सहायता की।

लॉकडाउन के कारण, कई गरीब घर, जो ज्यादातर दैनिक मजदूरी पर निर्भर थे, वे सब आय और राशन से वंचित थे।
आईआईएमए की टीम ने इन समुदाय की मदद करने के लिए समर्पण के साथ काम किया। इस राहत कार्य का लक्ष्य सरकार और अन्य सिविल सोसाइटी के नजरों से जो अनछुए रह जाने वाले लोगों तक पहुंचना था।

टीम ने गरीब घरों का सर्वेक्षण किया। इन सर्वेक्षण के आधार पर, परिवारों को तात्कालिकता की आवश्यकता के आधार पर चार श्रेणियों में विभाजित किया गया था। सर्वेक्षण ने यह भी संकेत दिया कि लगभग 85 फीसदी घरों में नियमित आय नहीं हो रही थी, लगभग 54 फीसदी परिवारों ने प्रति दिन खाए जाने वाले भोजन की संख्या कम कर दी थी और कई लोगों को पीडीएस के माध्यम से राशन की खरीद में कठिनाइयाँ हुईं। सर्वेक्षण से प्राप्त आंकड़ों से घरों में आने वाली विशिष्ट समस्याओं और घरों की संख्या और स्थान की पहचान करने में मदद मिली, जिन्हें सबसे ज्यादा मदद की जरूरत थी। और इसी का उपयोग राहत कार्य की योजना बनाने के लिए किया गया था।

Uday Kumar Patel Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned