राजकोट में कोरोना वैक्सीन का ड्राय रन

कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए टीकाकरण से पहले

By: Rajesh Bhatnagar

Published: 29 Dec 2020, 01:04 AM IST

रोहित सांगाणी

राजकोट. कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए टीकाकरण से पहले सोमवार को राजकोट जिले के गोंडल और गुजरात की राजधानी गांधीनगर जिले में कोरोना वैक्सीन का ड्राय रन (मॉक ड्रिल) शुरू हुआ। राजकोट शहर में स्वास्थ्यकर्मियों को प्रशिक्षण दिया गया। स्वास्थ्य विभाग के सूत्रों के अनुसार राज्यभर में कोरोना टीकाकरण का अभियान संभवतया आगामी 15 जनवरी से शुरू किया जाएगा।
सूत्रों के अनुसार राजकोट जिला कलक्टर व जिला स्वास्थ्य विभाग की ओर से गोंडल तहसील में पांच स्वास्थ्य केन्द्रों में स्थापित किए गए विशेष टीकाकरण केन्द्रों में सोमवार को कोरोना टीकाकरण से पहले ड्राय रन आयोजित हुआ। इसके तहत 25-25 लोगों को एसएमएस भेजकर बुलाया गया। वैक्सीन संग्रहण केन्द्र से टीके लेकर रवाना होने के बाद बूथ पर पहुंचने में लगने वाले समय, टीका लगवाने के लिए आने वाले व्यक्तियों को एक कमरे में प्रतीक्षा के लिए लगने वाले समय, ऐसे लोगों की टीकाकरण केन्द्र में मौजूद स्टाफ की ओर से प्राथमिक स्वास्थ्य जांच के बाद दूसरे कमरे में वैक्सीनेटर से टीका लगवाने और उसके बाद तीसरे कमरे में 30 मिनट तक ऑब्जर्वेशन में रखने और पुन: स्वास्थ्य जांच करने की ड्राय रन आयोजित की गई। इसी प्रकार की कार्रवाई गांधीनगर जिले में भी की गई।
उधर, राजकोट शहर में सोमवार को स्वास्थ्यकर्मियों को वैक्सीन संग्रहण केन्द्र से स्टर्लिंग अस्पताल तक ड्राय रन के तहत प्रशिक्षण दिया गया। उप स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. पंकज राठोड के अनुसार राजकोट महानगर पालिका के स्वास्थ्य विभाग की ओर से शहर में पांच स्थानों पर मंगलवार को ड्राय रन आयोजित किया जाएगा। इसके तहत गुंदावाडी स्थित सरकारी पद्माकुंबरबा स्वास्थ्य केन्द्र, स्टर्लिंग अस्पताल, राजकोट महानगर पालिका के श्यामनगर स्थित स्वास्थ्य केन्द्र, 80 फीट रोड स्थित शेठ हाईस्कूल और शाला संख्या 32 में चिकित्सा टीमों की ओर से वैक्सीनेशन की ड्राय रन आयोजित की जाएगी। इन केन्द्रों पर फिलहाल 25-25 सहित कुल 125 स्वास्थ्यकर्मियों को ड्राय रन में जोड़ा जाएगा। इसके तहत दस्तावेजों की जांच, वैक्सीनेशन में लगने वाले समय, उसके बाद 30 मिनट तक ऑब्जर्वेशन में रखने आदि की प्रक्रिया इस दौरान पूरी की जाएगी। उन्होंने स्पष्ट किया कि ड्राय रन की इस पूरी प्रक्रिया में वास्तव में टीका नहीं लगाया जाएगा। ड्राय रन की मिनट-दर- मिनट की पूरी प्रकिया को रेकार्ड कर उसके डेटा संग्रहितकर राज्य सरकार को भिजवाए जाएंगे।

Rajesh Bhatnagar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned