कोरोना वैक्सीन ट्रायल : चार सौ से अधिक लोगों को दिया जा चुका है पहला डोज

सोला सिविल अस्पताल में कोरोना वैक्सीन ट्रायल...
-चार सौ से अधिक लोगों को दिया जा चुका है पहला डोज
-दूसरे डोज की तैयारी शुरू

By: Omprakash Sharma

Published: 16 Dec 2020, 09:29 PM IST

अहमदाबाद. शहर के सिविल अस्पताल में चल रही कोरोना वैक्सीन की ट्रायल के उपलक्ष्य में अब तक चार सौ से अधिक स्वंयसेवकों को यह टीका लगाया जा चुका है। अस्पताल में यह ट्रायल एक हजार से अधिक लोगों पर किया जाएगा। अब दूसरे डोज की तैयारी भी शुरू कर दी गई है। इस वैक्सीन को दो भागों में बांटा गया है।

भारत बायोटेक की ओर से तैयार की गई कोरोना की स्वदेशी वैक्सीन का तीसरे चरण का ट्रायल जारी है। गुजरात में इसके लिए अहमदाबाद स्थित सोला सिविल अस्पताल को चुना गया। गत 26 नवम्बर से शुरू की गई यह वैक्सीन अब तक 400 से अधिक लोगों को लगाई जा चुकी है। इनमें आम लोगों के अलावा अस्पताल के स्वास्थ्य कर्मी, उद्योगपति व्यापारी भी शामिल हैं। बुधवार को भी लगभग 30 लोगों को यह वैक्सन दी गई। राहत की बात यह है कि लोग सामने से आकर वैक्सीन के लिए संपर्क कर रहे हैं। स्वस्थ्य लोगों पर इसका परीक्षण किया जा रहा है।

किसी को नहीं हुआ साइड इफेक्ट
अस्पताल की मेडिसिन विभागाध्यक्ष एवं ट्रायल वैक्सीन कमेटी की इंचार्ज डॉ. पारुल भट्ट ने बताया कि चार सौ से अधिक लोगों को पहला डोज लगाया जा चुका है और किसी भी व्यक्ति को कोई साइड इफेक्ट नहीं हुआ है। उन्होंने कहा कि इस वैक्सीन को दो डोज में विभाजित किया गया है। जिन लोगों को पहला डोज लिए हुए लगभग एक माह हो जाएगा उन्हें दूसरा डोज दिया जाएगा। उनके अनुसार प्रतिदिन करीब 30 से 35 लोगों को वैक्सीन दी जाती है। वैक्सीन लेने वालों में महिलाएं और पुरुष लगभग समान हैं। फिलहाल अस्पताल में लगभग छह सौ वैक्सीन (पहले डोज के लिए) उपलब्ध हैं। दूसरे डोज की वैक्सीन आगामी दिनों में आ जाएगी।

वैक्सीन लेने में उत्साह
डॉ. पारुल भट्ट ने बताया कि कोरोना की इस ट्रायल वैक्सीन के लिए लोगों में उत्साह है। जो लोग वैक्सीन लेकर गए हैं उनमें से कई ऐसे हैं जो वैक्सीन लगवाने के लिए अन्य अपने साथी या रिश्तेदारों को साथ ला रहे हैं।

Omprakash Sharma Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned