डकैती के आरोप में दस साल से वांछित दो आरोपी दाहोद से गिरफ्तार

डकैती के आरोप में दस साल से वांछित दो आरोपी दाहोद से गिरफ्तार

nagendra singh rathore | Publish: Nov, 05 2018 11:01:02 PM (IST) Ahmedabad, Ahmedabad, Gujarat, India

दिवाली पर चोरी, लूट, डकैती रोकने को 14 टीमें गुजरात, राजस्थान, म.प्र., दिल्ली और हरियाणा में कर रही हैं छापेमारी

अहमदाबाद. दिवाली के दौरान शहर में चोरी, लूट, डकैती की घटनाओं को रोकने के लिए बीते सालों में सक्रिय रहने वाले गिरोह के वांछित आरोपियों को पकड़ऩे के लिए छापेमारी कर रहीं क्राइम ब्रांच की एक टीम ने दाहोद से दो आरोपियों को पकड़ा है। दोनों ही वटवा इलाके में २००८ में हुई डकैती की घटना में वांछित थे।
क्राइम ब्रांच के एसीपी बी.वी.गोहिल ने बताया कि गिरफ्तार आरोपियों में एक का नाम जवरा बारिया है, जबकि दूसरे का नाम भारता भाभोर है। दोनों ही दाहोद जिले की गरबाडा तहसील के मोटी खरज गांव के रहने वाले हैं।
दिवाली के दौरान शहर में अपराध को रोकने के लिए नामी गिरोहों के वांछित सदस्यों को पकडऩे के लिए स्थानीय पुलिस और क्राइम ब्रांच की संयुक्त 14 टीमें बनाई हैं। यह टीमें गुजरात के दाहोद, म.प्रदेश के झाबुआ, अलीराजपुर, राजस्थान के डूंगरपुर, उदयपुर, उत्तरप्रदेश और हरियाणा, तथा दिल्ली में छापेमारी कर रही हैं। इसमें से एक टीम को दाहोद जिले में दो आरोपियों को पकडऩे में सफलता मिली है। यह दोनों ही आरोपी दस साल पहले वटवा में हुई डकैती की घटना में दस साल से वांछित थे।

शहेरा तहसील पंचायत सहायक वक्र्स मैनेजर रिश्वत लेते गिरफ्तार
अहमदाबाद. भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) ने पंचमहाल जिले की शहेरा तहसील पंचायत कार्यालय में महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी (मनरेगा) योजना के सहायक वक्र्स मैनेजर मो.कासम बख्खर (27) को 15 हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए धनतेरस के दिन सोमवार को गिरफ्तार कर लिया।
एसीबी में लांभी ग्राम पंचायत के उप सरपंच ने बख्खर के विरुद्ध रिश्वत मांगने की शिकायत की थी। बख्खर पर आरोप है कि उसने लांभी ग्राम पंचायत के उप सरपंच से उनके गांव में विकास काम और मनरेगा के तहत हुए कार्य के बिल का पेमेन्ट करने एवं कार्य का ऑर्डर जारी करने के एवज में १५ हजार रुपए की रिश्वत की मांग की।
उपसरपंच होने के नाते उन्हें बख्खर के पास विकास कार्यों के ऑर्डर के संबंध में एवं बिल पेमेन्ट के संबंध में मिलना होता है। लेकिन सरकारी कामकाज के लिए रिश्वत मांगे जाने से नाराज उप सरपंच ने एसीबी में शिकायत की। शिकायत पर एसीबी की टीम ने सोमवार को कार्रवाई करते हुए बख्खर को १५ हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए पकड़ लिया।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned