दशा मां के व्रत आज से, इन मूर्तियों की ही मांग

Dashama Fast, Temple, Gujarat, Ahmedabad, small idol in demand

By: nagendra singh rathore

Updated: 20 Jul 2020, 12:03 AM IST

आणंद. दशा मां व्रत पर्व सोमवार से शुरू हो रहा है। कोरोना के चलते इस बार बाजार में कम आकार वाली मूर्तियों की मांग है। हालांकि पिछले वर्षों की तुलना में इन मूर्तियों की भी मांग कम है।
खेड़ा एवं आणंद जिले में दशा मां के व्रत के मद्देनजर बाजार में आईं मूर्तियों की बिक्री के लिए ज्यादा चहल पहल नहीं है। कोरोना के कारण इस बार बड़े आकार की मूर्तियों की संख्या भी कम देखने को मिल रही है। इस बार लोग कम आकार वाली मूर्तियां ही पंसद कर घर ले जा रहे हैं। गौरतलब है कि इस बार कोरोना के चलते सामूहिक रूप से मूर्ति की स्थापना नहीं की जा रही है। जिससे हल्के कद वाली मूर्तियों की बिक्री हो रही है।


डीसा में उत्तर गुजरात के सबसे बड़े दशामां मंदिर में मेला रद्द

पालनपुर. बनासकांठा जिले के डीसा में उत्तर गुजरात के सबसे बड़े दशामां के मंदिर में इस वर्ष कोरोना महामारी के चलते सोमवार से प्रस्तावित मेला रद्द कर दिया गया है।
मंदिर सूत्रों के अनुसार डीसा के दशामां मंदिर को उत्तर गुजरात का सबसे बड़ा मंदिर माना जाता है। इस वर्ष कोरोना महामारी के कारण दशामां मंदिर में सोमवार से प्रस्तावति दस दिवसीय मेले का आयोजन रद्द करने का निर्णय किया गया है।
सोमवार से शुरू होने वाले दशामां के व्रत के दौरान सोशल डिस्टेन्सिंग का पालन करने, मास्क लगाकर व सेनेटाइ करने के बाद ही मंदिर में श्रद्धालु प्रवेश कर सकेंगे। कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए श्रद्धालुओं को घर पर ही पूजा करने की सलाह भी दी गई है। पालनपुर में दशामां की मूर्तियों को दुकानों पर सजाया गया है लेकिन इस वर्ष कोरोना महामारी के कारण बहुत कम मूर्तियां बिक रही हैं।

nagendra singh rathore
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned