Gujarat: 'गांधीगिरी' के जरिए मांगा भारत बंद का समर्थन

demonstration, bharat band, vehicles, rose, traders, trade unions: व्यापारियों व वाहन चालकों को दिया गुलाब का फूल

By: Pushpendra Rajput

Published: 26 Sep 2021, 08:25 PM IST

गांधीनगर. भारत बंद समर्थन के लिए अमराईवाडी व मणीनगर में मानव अधिकार ग्रुप ने अनोखा तरीका अपनाया है। उन्होंने सोमवार को भारत बंद के आह्वान को समर्थन देने के लिए गांधीगिरी का रास्ता अपनाया और व्यापारियों और वाहन चालकों को गुलाब का फूल दिया।

पूर्व पार्षद जॉर्ज डायस के अनुसार किसान संगठन नए कृषि कानून के विरोध में पिछले एक वर्ष से आंदोलन कर रहे है। इन कानून के विरोध में सोमवार को भारत बंद का आह्वान किया है, जिसे कांग्रेस समेत राजनीति पार्टियों ने समर्थन किया है। व्यापारियों और आमजन से भारत बंद का समर्थन करने के लिए गुलाब का फूल दिया गया।

उधर, इन्टक के राष्ट्रीय मंत्री अशोक पंजाबी ने कहा कि श्रमिक संगठनों का भी भारत बंद के आह्वान में समर्थन हैं। इसके मद्देनजर सोमवार को लालदरवाजा स्थित सरदार बाग के निकट आमसभा होगी। इसके अलावा अहमदाबाद समेत गुजरातभर में धरना-प्रदर्शन किए जाएंगे। उन्होंने आरोप लगाया कि केन्द्र सरकार राष्ट्रीय सम्पत्ति को निजी हाथों में सौंप रही है। यह किसान व श्रमिक विरोधी सरकार है। गरीब विरोधी सरकार है।

गुजरात प्रदेश कांग्रेस किसान प्रकोष्ठ के अध्यक्ष पाल आंबलिया का आरोप है कि नए कृषि कानूनों के चलते गुजरातभर में 224 में से 114 एपीएमसी बंद होने के कगार पर हैं। फिलहाल 15 एपीएमसी बंद हो गए हैं और 7 एपीएमसी में आवक बंद हो गई है। उन्होने कहा कि फार्मिंग एक्ट, एपीएमसी एक्ट और आवश्यक चीजवस्तुओं के कानून में काफी बदलाव किए गए हैं, जिससे गुजरात के किसान और खेती बदहाल हो गई है। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय किसान संघर्ष समन्वय समिति, राष्ट्रीय किसान मोर्चा के आह्वान पर सोमवार को भारत बंद का कांग्रेस समर्थन करती है। किसानों को पर्याप्त और नियमित बिजली, किसानों की पैदावार बढ़ाने और किसानों को सस्ती सिंचाई मुहैया कराने के लिए कांग्रेस लड़ाई लड़ रही है।

Pushpendra Rajput Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned