सिविल अस्पताल के ट्रॉमा सेंटर में प्रतिदिन 50 मरीजों की हो सकेगी डायलिसिस

-अब सिविल अस्पताल में भी हो सकेगा प्रतिदिन १३५ का डायलिसिस

By: Omprakash Sharma

Published: 07 Jul 2019, 10:53 PM IST

अहमदाबाद. शहर के सबसे बड़े सिविल अस्पताल के ट्रॉमा सेंटर में डायलिसिस सेंटर शुरू कर दिया गया है। अस्पताल में इंस्टीट्यूट ऑफ किडनी डिजिज एंड रिसर्च सेंटर (आईकेडीआरसी) की ओर से यह संचालन किया जा रहा है। अब प्रतिदिन सिविल अस्पताल में भी १३५ लोगों का डायलिसिस हो सकेगा। अस्पताल में ३० से अधिक मशीनें कार्यरत की गईं हैं।
सिविल अस्पताल में आने वाले मरीजों को जरूरत के आधार पर ट्रॉमा सेंटर में ही डायलिसिस किए जाने की व्यवस्था की गई है। इमरजेंसी में आने वाले मरीजों को कभी-कभी डायलिसिस के लिए आईकेडीआरसी या फिर सिविल अस्पताल के हिमोडायलिसिस केन्द्र तक ले जाया जाता है। लेकिन अब ट्रॉमा सेंटर में ही आईकेडीआरसी की ओर से यहां बारह मशीनें कार्यरत की गईं हैं। प्रतिदिन एक मशीन से चार से पांच लोगों का डायलिसिस किया जा सकता है। ट्रॉमा सेंटर में अतिरिक्त लगाईं गईं डायलिसिस मशीनों से प्रतिदिन करीब ५० जरूरतमंद मरीजों का डायलिसिस हो सकेगा। सिविल अस्पताल में हिमोडायलिसिस सेंटर में भी प्रतिदिन ८५ लोगों का डायलिसिस किए जाने की क्षमता है। जिससे प्रतिदिन अब सिविल अस्पताल में (ट्रोमा सेंटर) समेत १३० से १३५ लोगों का डायलिसिस हो सकता है। आईकेडीआरसी के निदेशक डॉ. विनीत मिश्रा के अनुसार ट्रोमा सेंटर में भी आईकेडीआरसी के विशेषज्ञ एवं टेक्निशियन की देखरेख में डायलिसिस किया जाता है। उनके अनुसार डायलिसिस में उपयोग में ली जाने वाली डायलाइजर किट सिंगल यूज की जाएगी।

Omprakash Sharma Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned