मौजूदा समय में सामाजिक व आर्थिक चिंता के विषयों पर चर्चा

मौजूदा समय में सामाजिक व आर्थिक चिंता के विषयों पर चर्चा

Rajesh Bhatnagar | Updated: 06 Jan 2019, 12:05:37 AM (IST) Ahmedabad, Ahmedabad, Gujarat, India

आरएसएस के अनुषांगिक संगठनों की प्रांतीय बैठक, लोकसभा चुनाव में जिम्मेदारी पर भी चर्चा, राम मंदिर बनन ही चाहिए, यह हिन्दुओं की आस्था का विषय

अहमदाबाद. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के गुजरात प्रांत व अनुषांगिक संगठनों की समन्यवय बैठक यहां नारणपुरा क्षेत्र स्थित गुजरात स्टेट को-ऑपरेटिव बैंक सभागार में शनिवार को हुई। मौजूदा समय में सामाजिक व आर्थिक चिंता के विषयों बैठक में चर्चा की गई।
लोकसभा चुनाव में आरएसएस व अनुषांगिक संगठनों की जिम्मेदारी व कार्य पर भी बैठक में चर्चा की गई। इसके अलावा आरएसएस के साथ अनुषांगिक संगठनों के समन्वय व कार्य के बारे में भी महत्वपूर्ण चर्चा की गई।
आरएसएस के गुजरात प्रांत के प्रचार प्रमुख विजय ठाकर ने मीडियाकर्मियों से बातचीत में कहा कि आरएसएस व अनुषांगिक संगठनों के गुजरात प्रांतस्तर के मूलभूत तौर पर स्वयंसेवक कार्यकर्ता समन्वय बैठक में अपेक्षित व मौजूद रहे।
उन्होंने कहा कि सामाजिक समरसता पर पिछले वर्ष जुलाई महीने में समन्वय बैठक में चिंता व्यक्त की गई। परिणामस्वरूप राज्यभर में तहसीलों व खंड स्तर पर सामाजिक समरसता यज्ञ आयोजित किए गए। जात-पांत भूलकर सभी हिन्दुओं ने एक स्थान पर पहुंचकर यज्ञ में आहुति दी और भोजन किया। इस प्रकार के आयोजन होते भी रहते हैं।
ठाकर ने कहा कि लोकसभा चुनाव में अधिक से अधिक संख्या में नागरिकों को मतदान करने व लोकतंत्र का पर्व मनाने के लिए प्रेरित करना स्वयंसेवक के तौर पर चिंता का विषय हो सकता है, इसलिए इस प्रकार का प्रयास करना या अपील करने का स्वयंसेवक का कत्र्तव्य भी है। उन्होंने एक प्रश्न के उत्तर में कहा कि कहा कि राम मंदिर बनन ही चाहिए, यह हिन्दुओं की आस्था का विषय है। चाहे अध्यादेश से या कानून से बने लेकिन राम मंदिर बनना ही चाहिए।
मुख्यमंत्री विजय रूपाणी, उप मुख्यमंत्री नितिन पटेल, भाजपा प्रदेशाध्यक्ष जितु वाघाणी, राजस्व मंत्री कौशिक पटेल, उपाध्यक्ष गोरधन झड़फिया, आई.के. जाडेजा, महामंत्री के.सी. पटेल, भाजपा सांसद के अलावा भाजपा, विश्व हिन्दू परिषद, बजरंग दल, भारतीय किसान संघ आदि संगठनों के गुजरात प्रांत के पदाधिकारी इस बैठक में मौजूद थे।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned