इस दीपावली ई-कॉमर्स पर उत्पाद बेचने वालों की दिवाली

Mukesh Sharma

Publish: Oct, 13 2017 04:41:40 (IST)

Ahmedabad, Gujarat, India
इस दीपावली ई-कॉमर्स पर उत्पाद बेचने वालों की दिवाली

दुकानों के जरिए मोबाइल फोन, कपड़े, साज सज्जा की वस्तुएं, इलैक्ट्रॉनिक उत्पाद बेचने वालों की तुलना में ऑनलाइन (ई-कॉमर्स) के जरिए ऐसे उत्पाद बेचने वालों

अहमदाबाद।दुकानों के जरिए मोबाइल फोन, कपड़े, साज सज्जा की वस्तुएं, इलैक्ट्रॉनिक उत्पाद बेचने वालों की तुलना में ऑनलाइन (ई-कॉमर्स) के जरिए ऐसे उत्पाद बेचने वालों की इस बार चांदी-ही-चांदी होने का अनुमान है। इस दिवाली ई-कॉमर्स की बिक्री बीते वर्ष की तुलना में पांच गुना अधिक होने की संभावना है, जो ३० हजार करोड़ के आंकड़े को पार कर सकती है।

एसोचैम की ओर से अहमदाबाद, जयपुर सहित देश के 10 शहरों में विभिन्न क्षेत्रों के ३५० व्यापारियों के बीच किए गए सर्वेक्षण में यह तथ्य सामने आए हैं।इसमें बताया गया है कि लोगों को ऑनलाइन वेबसाइटों के माध्यम से त्योहारों पर विभिन्न उत्पादों की खरीदी में दुकानों से ज्यादा डिस्काउंट मिलता है। उनका समय, पेट्रोल बचता है। घर बैठे लोगों को दिखाते हुए खरीदी कर सकते हैं। विभिन्न प्रकार के उत्पाद हैं। कई ब्रांड से तुलना भी कर सकते हैं।

इन सब को देखते हुए त्यौहारों पर शहरी जनसंख्या ऑनलाइन खरीदी को ज्यादा तवज्जो दे रही है। इसके अलावा गांवों तक में स्मार्ट फोन, मोबाइलइंटरनेट व हाईस्पीड इंटरनेट सेवा के पहुंच जाने से भी इसमें वृद्धि देखी जा रही है। दिल्ली, मुंबई, बैैंगलूरू जैसे मेट्रो शहरों के साथ-साथ दूसरी व तीसरी श्रेणी के शहरों के लोगों में भी ऑनलाइन खरीदी की रुचि में ६०-६५ प्रतिशत की वृद्धि देखने को मिल रही है। ६५ प्रतिशत पुरुष तो ३५ फीसदी महिलाएं हंै। ५५ प्रतिशत जनसंख्या २६-३५ साल की है।

दुकानों की तुलना में ऑनलाइन शॉपिंग में मोबाइल की बिक्री ७८ प्रतिशत, इलैक्ट्रॉनिक्स वस्तुएं ७२, गिफ्ट ५८, साजसज्जा की वस्तुएं ५६ और घरेलू वस्तुएं ४५ प्रतिशत ज्यादा बिक रही हैं।

विदेशी मुद्रा की तस्करी का रैकेट पकड़ा

राजस्व आसूचना निदेशालय, अहमदाबाद इकाई की टीम ने विदेशी मुद्रा की तस्करी के रैकेट का पर्दाफाश किया है। इस आरोप में डीआरआई टीम ने तीन लोगों को गिरफ्तार कर विदेशी मुद्रा बरामद की। डीआरआई अधिकारियों को जानकारी मिली थी कि महाराष्ट्र में थाणे के उल्हासनगर में भारत से दुबई में विदेशी मुद्रा और सोना की तस्करी हो रही है। तस्करी रैकेट के मुख्य आरोपी कमल टेकचंद मोटवानी बताया, जो एयरपोर्ट कस्टम से बचने के लिए मुंबई एयरपोर्ट से दुबई के लिए विदेशी मुद्रा छिपाकर यात्रियों की गुदा में छिपाकर भेजता था और उसी समय ये यात्री गुर्दा में सोना छिपाकर दुबई से लाते थे, जिनको प्रति ट्रीप 10 हजार से पन्द्रह हजार रुपए दिए जाते थे।

डीआरआई की एयर इंटेलिजेन्स यूनिट ने मुंबई एयरपोर्ट से मुख्य आरोपी कमल मोटवानी को उस समय गिरफ्तार किया जब वह अपने दो साथी के साथ दुबई जा रहे थे। ये आरोपी दुबई जाने के लिए मुंबई एयरपोर्ट पर पहुंचे थे। पहले तो इन लोगों ने किसी भी विदेशी मुद्रा ले जाने से इनकार कर दिया, लेकिन बाद में डीआरआई की टीम उनको अस्पताल ले गई थी और एक्स-रे निकलवाया। एक्स-रे जांच में तीन यात्रियों की गुदा में किसी वस्तुओं के दो रोल नजर आए। इन लोगों के पास छह रोल्स बरामद किए गए, जिसमें 85000 यूरो और 7100 यूएस डॉलर है, जो भारतीय मुद्रा में 72 लाख रुपए है। इन यात्रियों को सीमशुल्क अधिनियम के तहत एयरविंग यूनिटने गिरफ्तार कर लिया।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned