कार्टून कैरेक्टर मोटू-पतलू के साथ पढ़ाई की थीम पर बनाई इको-फ्रेंडली गणपति प्रतिमा

कार्टून कैरेक्टर मोटू-पतलू के साथ पढ़ाई की थीम पर बनाई इको-फ्रेंडली गणपति प्रतिमा

Gyan Prakash Sharma | Publish: Sep, 11 2018 10:28:41 PM (IST) Ahmedabad, Gujarat, India

धर्म मित्र मंडल ने डेढ़ महीने में तैयार की प्रतिमा इको-फ्रेंडली गणपति प्रतिमा, गणेशोत्सव १३ से

जामनगर. गणपति महोत्सव नजदीक आने के साथ ही जहां एक मूर्तिकारों ने भगवान गणपति की रंगबिरंगी प्रतिमाओं को अंतिम रूप देना शुरू कर दिया है, वहीं दूसरी ओर, अनेक संगठनों ने भी पांडाल सहित की तैयारियों को अंतिम रूप दे रहे हैं। इस बार ज्यादातर इको-फ्रेंडली मिट्टी की प्रतिमाओं का ज्यादा क्रेज देखने को मिल रहा है। ऐसी ही इको-फ्रेंडली प्रतिमा जामनगर में तैयार की गई है, जिसमें कार्टून कैरेक्टर मोटू-पतलू के साथ-साथ पढ़ाई की थीम पर गणपति की प्रतिमा थर्मोकॉल से तैयार की गई है।
जामनगर सहित प्रदेशभर में इस वर्ष भी बाहुबली, गरुड़, एकदंत, सिंहासन पर विराजमान गणपति की अनेक प्रकार की प्रतिमाएं तैयार की गई है। जामनगर की बात करें तो यहां पर ४ फीट से लेकर १२ फीट तक ऊंचाई वाली प्रतिमाएं तैयार की जा रही है। पीओपी की प्रतिमाओं पर प्रतिबंध होने के कारण ज्यादातर मंडल, शहरी एवं ट्रस्टों की ओर से मिट्टी व इको-फ्रेंडली प्रतिमाएं तैयार की गई है।


छह विद्यार्थी व चार बेंच भी शामिल :
शहर के धर्म मित्र मंडल की ओर से इस बार इको-फ्रेंडली प्रतिमा तैयार की गई है। शहर के गढऩी राग, कडियावाड में पिछले १६ वर्षों से गणपति महोत्सव मनाया जाता है। हर वर्ष अलग-अलग थीम पर गणपति की स्थापना की जाती है। इस बार भी बालकों के प्रिय कार्टून पात्र मोटू-पतलू जैसी प्रतिमा तैयार की गई है। पढ़ाई की थीम पर तैयार की गई प्रतिमा थर्मोकोल की है। थीम में कार्टून पात्र मोटू-पतलू, गणपतिजी, गणेश के वाहन मूषक, छह विद्यार्थी व चार बेंच थर्मोकोल से बनाई गई हैं।
मंडल के सदस्य अमित राठौड़, राकेश वसाणी, पूनाभाई दरजी, हार्दिक चौहान एवं भूपत आणदाणी सहित अन्य सदस्यों ने करीब डेढ़ महीने की मेहनत के बाद यह थीम तैयार की है।

 

आणंद जिले में१४६५ स्थलों पर होगी गणपति की स्थापना
आणंद. विघ्नहर्ता गणेश महोत्सव गुरुवार से शुरू होगा। ऐसे में विभिन्न मंडलों की ओर से स्थापना की तैयारियां शुरू की गई हैं। इस बार जिले में १४६५ स्थलों पर गणपति की स्थापना की जाएगी।
जिले के २३४ गांवों में १४६५ स्थलों पर होने वाली गणपति स्थापना को देखते हुए पुलिस प्रशासन की ओर से भी तैयारियां शुरू की गई हैं। जिले से संवेदनशील गांव व शहरों में पुलिस की ओर से गुरुवार से बंदोबस्त तैनात किया जाएगा।
आणंद की बात करें तो शहर में १०० स्थलों पर भगवान गणपति की स्थापना की जाएगी। पुलिस अधीक्षक मकरंद चौहान के मार्गदर्शन में जिले में ५०० पुलिस जवान, एक एसआरपी कम्पनी, १२० होमगार्ड जवान तैनात रहेंगे।

Ad Block is Banned